ICICI बैंक का बड़ा फैसला, सीईओ चंदा कोचर पर लगे आरोपों की होगी स्वतंत्र जांच

नई दिल्ली ( 30 मई ): आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ चंदा कोचर की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं।  आईसीआईसीआई बैंक ने अब उनके खिलाफ स्वतंत्र रूप से आंतरिक जांच करने का फैसला किया है।प्राइवेट सेक्टर बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने बुधवार को कहा कि इसने अपनी प्रबंध निदेशक और सीईओ चंद्रा कोचर के खिलाफ अज्ञात 'व्हिसल ब्लोअर' द्वारा लगाए गए आरोपों की स्वतंत्र जांच कराने का फैसला किया है। आईसीआईसीआई बैंक ने रेग्युलेटरी फाइलिंग में बताया है कि जांच किसी स्वतंत्र व्यक्ति के नेतृत्व में होगी। समिति यह जांच करेगी की कर्ज देने के मामले में आचार संहिता का उल्लंघन किया गया है या नहीं।बैंक के बोर्ड ने कहा है कि ऑडिट कमिटी इस मामले में आगे फैसला लेगी। कमिटी जांच टीम का मुखिया, संदर्भ की शर्तें और समय अवधि तय करेगी। ऑडिट कमिटी मुख्य जांचकर्ता को स्वतंत्र लीगल और प्रफेसनल सपॉर्ट के साथ मदद देगी।फाइलिंग में कहा गया, 'जांच का दायरा विस्तृत होगा और जांच के दौरान सामने आने वाले सभी फैक्ट्स और संबंधित मामलों को भी शामिल किया जाएगा। फॉरेंसिक, ई-मेल रीव्यूज का प्रयोग किया जाएगा और संबंधित व्यक्तियों के बयान भी दर्ज किए जाएंगे।' कोचर पर कुछ ऋणदाताओं के साथ हितों के टकराव और एक-दूसरे को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया गया है।