ICC ने लिया इतना बड़ा फैसला, बदल जाएगा टेस्ट क्रिकेट का इतिहास


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 मार्च): आईसीसी ने शुक्रवार को एक बड़ा फैसला लिया है। वनडे और टी-20 की तर्ज पर एक अब टेस्ट क्रिकेट इतिहास की परंपरा में एक बड़ा बदलाव सुनिश्चित हो गया। 

आईसीसी ने सीमित ओवरों की क्रिकेट की तरह टेस्ट क्रिकेट में भी जर्सी पर खिलाड़ियों के नाम और नंबर लिखे जाने को अपनी मंजूरी दे दी है। इस संबंध में इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने आगामी एशेज सीरीज में जर्सी पर खिलाड़ी का नाम और नंबर लिखे जाने के लिए मंजूरी मांगी थी। इस प्रस्ताव को आईसीसी ने अपनी तरफ से हरी झंडी दिखा दी है। पहली बार ऐसा इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज के दौरान देखने को मिलेगा।जर्सी में ये बदलाव 1 अगस्त 2019 से लागू होंगे। 


आईसीसी ने हाल ही में टेस्ट क्रिकेट को पुनर्स्थापित करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं। इसी दिशा में टेस्ट चैंपियनशिप के आयोजन को मंजूरी दी है  जो इस साल 15 जुलाई को शुरू होगी और 30 अप्रैल 2021 तक चलेगी। इसका फाइनल जून 2021 में खेला जाएगा। आईसीसी ने टेस्ट जर्सी में बदलाव को मंजूर मैदान पर दर्शकों को आकर्षित करने के उद्देश्य से दी है। जर्सी में खिलाड़ियों के नाम और नंबर लिखे जाने से टेस्ट क्रिकेट का रोमांच बढ़ जाएगा। 

आईसीसी के जीएम मैनेजर (रणनीतिक संवाद) क्लेयर फर्लोंग ने शुक्रवार को कहा, 'हां, यह एक अगस्त से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप से शुरू होगा। यह टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देने की व्यापक योजना का हिस्सा है।'
पूरी उम्मीद है कि भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट में दो विशेष जर्सी नंबर का इस्तेमाल नहीं करेगी, जिसमें सचिन तेंडुलकर की सीमित ओवर में 10 नंबर की जर्सी और शायद महेंद्र सिंह धोनी द्वारा इस्तेमाल की जाने जाने वाली सातवें नंबर की जर्सी शामिल हो। भारतीय टीम ने अनधिकृत रूप से 10 नंबर की जर्सी को रिटायर कर दिया है, जो तेंदुलकर पहना करते थे। पूरी संभावना है कि धोनी की जर्सी के साथ भी ऐसा ही होगा।