Blog single photo

टीम इंडिया के 11 खिलाडी तय, इन 4 खिलाडियों पर माथापच्ची, किसे मिलेगा मौका?

आईसीसी विश्वकप-2019 के लिए सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) टीम इंडिया की घोषणा करेगा। सभी की निगाहें बल्लेबाजी क्रम में 'चौथे नंबर' के खिलाड़ी पर रहेंगी।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 अप्रैल): आईसीसी विश्वकप-2019 के लिए सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) टीम इंडिया की घोषणा करेगा। सभी की निगाहें बल्लेबाजी क्रम में 'चौथे नंबर' के खिलाड़ी पर रहेंगी। बीसीसीआई के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय समिति मुंबई में बीसीसीआई के मुख्यालय में सोमवार (15 अप्रैल) को विश्वकप टीम का ऐलान करेगी। हालांकि, प्रसाद और कप्तान विराट कोहली के अनुसार टीम का लगभग चयन किया जा चुका है और इसमें एक या दो स्थानों के लिए ही माथापच्ची होगी।प्रसाद और विराट पहले ही संकेत दे चुके हैं कि आईपीएल-12 का प्रदर्शन विश्वकप टीम के चयन में मायने नहीं रखेगा। प्रसाद ने हाल ही में कहा था कि 20 खिलाड़ियों का पूल चुना जा चुका है जिनमें से 15 का चयन होना है। प्रसाद के नेतृत्व वाले चयन पैनल के अन्य सदस्य सरनदीप सिंह, देबांग गांधी, जतिन परांजपे और गगन खोड़ा हैं। टीम सोमवार को चुनी जाएगी और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद में विश्वकप की टीमों को 23 मई तक अपने अंतिम दल में परिवर्तन की अनुमति दे रखी है।

नंबर 4 पर होगी माथापच्चीपिछले काफी समय से टीम संयोजन को लेकर चयनकतार्ओं में माथापच्ची चल रही थी जबकि कप्तान विराट भी अलग अलग सीरीज में विभिन्न संयोजनों को लेकर प्रयोग कर चुके हैं, जिनमें मध्यक्रम में चौथे नंबर पर बल्लेबाज को लेकर स्थिति अब भी साफ नहीं है।टीम इंडिया में नंबर 4 के लिए अंबाती रायडू और के एल राहुल के बीच कड़ी टक्कर है।टीम इंडिया के ओपनर तयओपनिंग में शिखर धवन और रोहित शर्मा का स्थान पक्का है। शिखर ने आईपीएल में अपने पिछले मुकाबले में नाबाद 97 रन की शानदार पारी खेली थी।वहीँ रोहित शर्मा का बल्ला अब तक आईपीएल में खामोश है। मगर जब बात वनडे क्रिकेट की हो यहाँ हिटमैन से दुनिया का हर गेंदबाज़ घबराता है। रोहित ने वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगा चुके।चौथे नंबर का मुकाबला होगा दिलचस्पहालांकि मध्यक्रम में चौथे नंबर पर चयन काफी दिलचस्प होने वाला है। यही वह क्रम है जिसपर खेलते हुए युवराज सिंह ने 2011 के विश्वकप में यादगार प्रदर्शन किया था और भारत को खिताबी जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। यह क्रम पिछले कुछ समय में लगातार चर्चा का विषय रहा है। चौथे नंबर पर अंबाती रायडू टीम और के एल राहुल के बीच कड़ी जंग है। राहुल ने इस आईपीएल में ओपनिंग में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। यह दिलचस्प है कि 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से टीम प्रबंधन ने चौथे क्रम पर 11 बल्लेबाजों को उतारा हैस जिनमें अंबाती रायडू ने सर्वाधिक मैच खेले हैं। 

मिडिल आर्डर 

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विकेट कीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी, कोहली के लिए आज भी सबसे उपयोगी खिलाड़ी हैं। वह विश्व कप में मिडिल ऑर्डर को मजबूती देंगे और अच्छे फिनिशर की भूमिका निभाएंगे। इसके साथ ही वह विकेट के पीछे गेंदबाजों की मदद भी करते हैं। धोनी के अलावा केदार जाधव का टीम में चयन तय माना जा रहा है। जाधव बल्लेबाज़ी के साथ-साथ उपयोगी स्पिन गेंदबाज़ी भी कर लेते हैं। 

ऋषभ पंत और दिनेश कार्तिक के बीच मुकाबलाकप्तान विराट की पसंद ऋषभ पंत टीम के लिए एक्स फैक्टर होने के साथ-साथ दूसरे वैकल्पिक विकेटकीपर-बल्लेबाज भी हो सकते हैं। हालांकि, टेस्ट में खुद को साबित कर चुके पंत के लिए अभी वनडे में खुद को साबित किया जाना बाकी है। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज विस्फोटक बल्लेबाजी करता है और टीम को मध्य ओवरों में जरूरी रन गति दे सकता है।

टीम में दूसरे विकेटकीपर के रूप में पंत का मुकाबला दिनेश कार्तिक के साथ है। कार्तिक ने खुद को फिनिशर के रूप में तैयार किया है और उनकी बल्लेबाजी में भी एक आक्रामकता है। धोनी के बाद टीम में एक विकेटकीपर चुना जाना है और पंत तथा कार्तिक में से कोई एक विश्वकप टीम का हिस्सा बनेगा। पंत कलाई के स्पिनरों के खिलाफ आक्रामक बल्लेबाज हैं। भारत ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ भी उनसे काफी प्रभावित हैं।ऑलराउंडर के लिए पांड्या प्रबल दावेदारऑलराउंडर के लिए हार्दिक पांड्या सबसे प्रबल दावेदार हैं, जो मध्यम गति की गेंदबाजी के साथ साथ विस्फोटक बल्लेबाजी भी करते हैं। लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा अपनी उपयोगी बल्लेबाजी तथा जबरदस्त फील्डिंग के कारण विश्वकप टीम में जगह बना सकते हैं। पिछले कुछ समय से लगातार आजमाए जा रहे विजय शंकर भी ऑलराउंडर की भूमिका में उतर सकते हैं। पार्ट टाइम ऑफ स्पिनर और मध्य क्रम के उपयोगी बल्लेबाज केदार जाधव इस भूमिका में जगह बना सकते हैं।तेज गेंदबाज

टीम चयन में तेज गेंदबाजी आक्रमण पर भी निगाहें रहेंगी, जिनमें जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार तीनों प्रबल दावेदार देखे जा रहे हैं। इसके अलावा पांड्या भी तेज गेंदबाज ऑलराउंडर हैं जो चौथे तेज गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं। चयनकर्ता यदि गेंदबाजी क्रम में चार तेज गेंदबाज विशेषज्ञ उतारने की सोचते हैं तो दीपक चाहर और नवदीप सैनी को मौका मिल सकता है। दोनों ही आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और विश्वकप टीम का 'सरप्राइज' हो सकते हैं।कुलदीप-चहल की जगह पक्कीकप्तान विराट आमतौर पर गेंदबाजी आक्रमण में तीन तेज गेंदबाज, एक विशेषज्ञ स्पिनर और एक ऑलराउंडर खेलाना पसंद करते हैं। स्पिनरों के लिए दोनों कलाई के स्पिनरों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जगह पक्की मानी जा रही है। पिछले दो सालों में ये दोनों गेंदबाज भारतीय टीम का हिस्सा रहे। जडेजा अपनी लेफ्ट आर्म स्पिन से टीम को अतिरिक्त स्पिन विकल्प दे सकते हैं।

संभावित भारतीय टीम-

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, ,केएल राहुल, एमएस धौनी (विकेटकीपर), केदार जाधव, रिषभ पंत, अंबाती रायुडू, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मो. शमी, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल।

Tags :

NEXT STORY
Top