रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत को हराया, विश्व कप पर जमाया कब्जा


नई दिल्ली ( 23 जुलाई ): महिला विश्व कप का फाइनल मैच भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स के एतिहासिक मैदान पर खेला जा रहा है। इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट पर 228 रन बनाए। भारत को महिला विश्व कप फाइनल मुकाबला जीतने के लिए 229 रन का लक्ष्य दिया था। 

यह दूसरी बार है, जब भारत की टीम वर्ल्ड कप फाइनल में हारी है। इससे पहले 2005 में टीम इंडिया वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में हारी थी। भारतीय टीम इस मैच में इंग्लैंड पर हावी थी, लेकिन पूनम राउत (86) के आउट होने के बाद भारत के विकेट जल्दी-जल्दी गिर गए और भारत की टीम 219 पर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड की तेज गेंदबाज आन्या शर्बसोल ने इस मैच का रुख पूरी तरह से मोड़ दिया। उन्होंने इस मैच में 6 विकेट हासिल किए। भारत ने अपने अंतिम 7 विकेट 28 रन के अंतराल पर गंवा दिए।

इससे पहले 229 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। भारत का स्कोर 5 रन ही था कि स्मृति मंधाना (0) खाता खोले बगैर पविलियन लौट गईं। इसके बाद पूनम राउत ने कैप्टन मिताली राज के साथ पारी को संभाला। लेकिन जब भारत का स्कोर 43 रन था, उस वक्त रन चुराने के प्रयास में कैप्टन मिताली राज (17) रन आउट हो गईं। इसके बाद स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने पूनम के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने अपना अनुभव झोंकते हुए तीसरे विकेट के लिए मिलकर 95 रन जोड़े।