चैंपियंस ट्रॉफी: बांग्लादेश को रौंदने के बाद कोहली ने दिया ये बयान

नई दिल्ली(16 जून): भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बांग्लादेश के खिलाफ नौ विकेट से बड़ी विजय को संपूर्ण जीत करार देते हुए कहा कि उनकी टीम चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से 18 जून को होने वाले फाइनल को सामान्य मैच की तरह ही ले रही है। भारत ने दूसरे सेमीफाइनल में बांग्लादेश के 265 रन के लक्ष्य को रोहित शर्मा और कोहली की शानदार पारियों से लगभग दस आेवर शेष रहते हुए एक विकेट गंवाकर हासिल कर दिया।

- फाइनल में उसे पाकिस्तान से भिडऩा है जिसे उसने लीग मैच में 124 रन से हराया था। इस मैच को लेकर अभी से हाइप बन गयी है लेकिन कोहली ने साफ किया कि टीम पर इसका कोई दबाव नहीं है।

- भारतीय कप्तान ने मैच के बाद कहा कि हम इसे किसी अन्य मैच की तरह ही ले रहे हैं। मैं जानता हूं कि इसे उबाउ बयान माना जाएगा लेकिन हमारी यही सोच है। भारतीय मध्यक्रम को दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश के खिलाफ मैच में बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला, लेकिन कोहली के लिये यह चिंता का विषय नहीं है।

-  उन्होंने कहा कि मध्यक्रम को बहुत अधिक बल्लेबाजी का मौका नहीं मिलने से कभी चिंतित नहीं रहा। प्रत्येक बल्लेबाज अभ्यास के दौरान अच्छी तरह से गेंद को हिट कर रहा है। बांग्लादेश पर जीत के बारे में उन्होंने कहा कि यह संपूर्ण खेल का शानदार उदाहरण है। हमें इस तरह के मैच की जरूरत थी। हमने नौ विकेट से जीत की उम्मीद नहीं की थी लेकिन इससे हमारे शीर्ष क्रम की मजबूती का पता चलता है।  

- कोहली ने आगे कहा कि बांग्लादेश एक समय 300 रन बनाने की स्थिति में दिख रहा था लेकिन एेसे समय में कामचलाउ स्पिनर केदार जाधव ने दो महत्वपूर्ण विकेट लेकर भारत को वापसी दिलायी। कोहली ने कहा कि वह (जाधव) सरप्राइज पैकेज नहीं है। वह काफी चालाक क्रिकेटर है। वह जानता है कि गेंद को कहां पिच कराना है और पिच से किस तरह की मदद मिल रही है। उनका स्कोर 300 रन तक पहुंच सकता था।