इस लेडी IAS ने बॉडीगार्ड से उठवाईं चप्पलें...

रायपुर (25 जुलाई): उफनती नदी पार कर ग्रामीणों से मिलने के आई छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले की कलेक्टर शम्मी आबिदी अब विवादों में घिर गई हैं। दरअसल, नदी पार करते समय अपनी चप्पलें उन्होंने अपने गनर से उठवाईं।

आबिदी को इस बात का ध्यान ही नहीं रहा कि उनका बॉडीगार्ड उनकी सुरक्षा के लिए है न कि उनकी चप्पलें उठाने के लिए।

ये है मामला... - कांकेर डिस्ट्रिक्ट हेडक्वार्टर से करीब 70 किलोमीटर दूर कोड़ेकुर्से गांव में 21 जुलाई को जनसमस्या निवारण शिविर लगा था। - कलेक्टर शम्मी आबिदी ने वहां जाने की इच्छा जताई। उनके जूनियर अफसर मना करने लगे, लेकिन वह नहीं मानीं। - आखिरकार कोटरी नदी में एनीकट के ऊपर बहते पानी को पारकर वह कोड़ेकुर्से पहुंचीं। - इसके बाद आईएएस एसोसिएशन ने आबिदी की खूब तारीफ की। दिल्ली तक इसकी चर्चा होने लगी। - बाद में यह बात सामने आई कि आबिदी ने नदी पार करते समय बॉडीगार्ड से ही चप्पलें उठवाईं। - शिविर के दौरान कलेक्टर शम्मी आबिदी ने लोगों ने माना कि सचमुच में कोड़ेकुर्से में समस्याओं का अंबार है। - उन्होंने जानकारी दी कि पीडब्ल्यूडी को सेतु निर्माण विभाग से प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा गया है।