क्या घर और पत्नी से तनाव के चलते जान दे दी IAS मुकेश पाण्डेय ने ?

नई दिल्ली (11 अगस्त): बिहार के बक्सर जिले में तैनात डीएम मुकेश पाण्डेय की आत्म हत्या की प्रारंभिक जांच से पता चला है कि आईएएस मुकेश पाण्डेय का अपने घर वालों से तनाव चल रहा था। उनकी पत्नी भी खुश नहीं थी। मुकेश पांडेय ने आत्महत्या करने से पहले घर टेलीफोन से एक संदेश भेजा था। 

- मुकेश पाण्डेय ने जिन्दगी से तंग आ जाने और अच्छाई से विश्वास उठ जाने की बात कही थी। - साथ ही यह भी बता दिया था कि वे दिल्ली में आत्महत्या करने जा रहे हैं। 
- इस सन्देश के मिलते ही परिवार वालों ने बिहार से एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के माध्यम से दिल्ली पुलिस को संपर्क साधा और मदद करने को कहा।

- दिल्ली पुलिस ने घर भेजे गए संदेश के आधार पर कार्रवाई शुरू की। इस संदेश में यह भी लिखा था कि मैं अपना सुसाइड नोट दिल्ली के होटल लीला पैलेस के रूम नंबर 742 में छोड़ दूंगा। 

- दिल्ली पुलिस संदेश के आधार पर लीला पैलेस पहुंची। कमरे में आईएएस मुकेश पांडेय का सुसाइड नोट मिला। 

- संदेश में लिखा था कि वो जनकपुरी के होटल पिकाडिली के करीब में छत से कूद कर जान दे देंगे। 

- दिल्ली पुलिस दौड़ी-दौड़ी जनकपुरी में बताए स्थान पर गई। यहां किसी के आत्महत्या करने की कोई निशानदेही नहीं मिली। लेकिन मुकेश पाण्डेय का मोबाइल प्राप्त हो गया। 

- मुकेश पाण्डेय के वहां न मिलने पर दिल्ली के सभी थानों को  को अलर्ट किया गया। 

- इसी बीच गाजियाबाद रेलवे पुलिस से खबर मिली कि एक व्यक्ति ने ट्रेन से कटकर जान दे दी है।

- व्यक्ति देखने में ठीकठाक लग रहा है लेकिन चेहरा इतना विक्षिप्त है कि पहचान नहीं की जा सकती। 

- दिल्ली पुलिस के अधिकारी गाजियाबाद पहुंचे। तो पता चला लाश आईएएस मुकेश पांडेय की ही थी।

- शव को देख कर ऐसा अहसास होता है कि आत्महत्या करने के लिए आईएएस मुकेश पांडेय ने अपने सिर को पटरी पर रख दिया था।