हैदराबाद: खुद को पीएमओ अधिकारी बताने वाला व्यक्ति गिरफ्तार

नई दिल्ली(23 फरवरी): सीबीआई ने उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया जिसने कथित रूप से खुद को प्रधानमंत्री कार्यालय का अधिकारी बताकर आईएएस अधिकारी बी एल अग्रवाल से रिश्वत ली थी। उसने अग्रवाल के खिलाफ चल रही सीबीआई जांच में मदद करने का वादा कर उनसे रिश्वत ली थी।

- सैयद बुरहानुद्दीन उर्फ ओपी सिंह उर्फ ओपी शर्मा को हैदराबाद में गिरफ्तार किया गया।

- सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने कहा कि तलाशी के दौरान सीबीआई ने हैदराबाद में आरोपी के घर से करीब 35.5 लाख की नकद राशि और करीब 500 ग्राम सोने के आभूषण बरामद किए।

- एजेंसी के सूत्रों ने कहा कि जांच अब बुरहानुद्दीन के उन कथित संपर्कों के ईद गिर्द घूम रही है जिनके आधार पर उसने कथित रूप से अग्रवाल को मदद करने का आश्वासन दिया था।

- उन्होंने कहा कि इस बात की जांच की जा रही है कि क्या आरोपी के सच में कुछ संपर्क हैं जो उसकी मदद कर सकते थे या वह एक ठग है जो सीबीआई के चंगुल से निकलने के लिए व्याकुल अग्रवाल से पैसे ऐंठने की फिराक में था।

- छत्तीसगढ़ सरकार में प्रधान सचिव के पद पर तैनात अग्रवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले लंबित हैं। उन्होंने इन मामलों से निकलने के लिए कथित रूप से लोगों को रिश्वत दी जिसे लेकर कल उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

- यह आरोप है कि 1988 बैच के आईएएस अधिकारी अग्रवाल अपने खिलाफ चल रहे सीबीआई के मामलों का निपटान कराना चाहते थे जो 2010 में दर्ज किए गए थे। तब वह राज्य के स्वास्थ्य सचिव थे।