क्रैश होने से बाल-बाल बचा एयरफोर्स का लड़ाकू जहाज

नई दिल्ली (8 अप्रैल): उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ जिले के गांगेपुर मठिया गांव के सीवान में एक लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त होते-होते बच गया। इसी के साथ ही खेत में काम कर रहे आठ किसानों की जान भी बच गई। विमान के उड़ जाने के बाद किसानों ने राहत की सांस ली। गांगेपुर मठिया गांव में घाघरा नदी के पश्चिम सीवान में  शाम के समय किसान अपने खेत में गेहूं की कटाई कर रहे थे। तभी अचानक आसमान में उड़ रहा सेना का एक लड़ाकू विमान आसमान से जमीन की ओर गिरने लगा।


विमान जमीन पर गिरने से कुछ महज फीट की दूरी पर था कि पायलट ने साहस और सूझबूझ का परिचय देते हुए विमान को फिर ऊपर उड़ा दिया।  विमान बबुल और आम के पेड़ के बीच से पूरब की दिशा में तेजी से निकल गया। धूल का गुबार और तेज आवाज के कारण खेतों में काम कर रहे किसान दहशत में आ गए। इस बारे में प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि कुछ तकनीकी खामियों के चलते लड़ाकू विमान आसमान से जमीन के नीचे आ गया था,  लेकिन पायलट की सूझबूझ से विमान पुन: उड़ गया।