171 रन बनाने पर भारत की बेटी हरमनप्रीत ने कही ये बड़ी बात

नई दिल्ली ( 21 जुलाई ): आईसीसी महिला विश्व कप के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की तरफ धुंआधार बल्लेबाजी करने वाली हरमनप्रीत कौर ने कहा कि उन्हें इस मैच में खुद को साबित करना था। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस मैच में हरनप्रीत की 115 गेंदों पर खेली गई 171 रनों की बेहतरीन पारी के दम पर भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से हराकर दूसरी बार टूर्नमेंट के फाइनल में कदम रखा। 

भारतीय टीम का सामना रविवार को लंदन के द लॉर्ड्स मैदान पर खेले जाने वाले खिताबी मुकाबले में इंग्लैंड से होगा। मैच के बाद अपने एक बयान में हरमनप्रीत ने कहा, 'इस पूरे टूर्नामेंट में मुझे बल्लेबाजी का अवसर नहीं मिला था। इस सेमीफाइनल मैच में मुझे जब यह मौका मिला, तो मेरा लक्ष्य खुद को साबित करना था। भगवान का शुक्र है कि जो मैंने सोचा वही हुआ। मिताली राज, दीप्ति शर्मा और वेदा कृष्णमूर्ति ने भी अच्छा प्रदर्शन किया।'

हरमनप्रीत ने कहा, 'इस मैच में मेरी योजना प्रतिद्वंद्वी टीम की गेंदों पर नजर रख, उन पर अच्छे शॉट खेलने की थी। मैंने दीप्ति से कहा कि जितनी हो सके अदला-बदली होती रहे। मैंने कहा कि उन्हें अधिक दबाव लेने की जरूरत नहीं है और मुझे स्ट्राइक का मौका दें, बाकी जिम्मेदारी मेरी। उन्होंने बहुत अच्छा काम किया।