मैं जोश से नहीं होश से काम लेता हूं-रोहित शर्मा

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 मई): वर्ल्ड कप का आगाज 30 मई से होने जा रहा है। वर्ल्ड कप का पहला मैच इंग्लैंड और वेल्स में खेला जाएगा। कल भारत लंदन के ओवल में न्यूजीलैंड से प्रैक्टिस मैच खेलेगा। यह मैच भारत के लिए अहम होगा। कोहली नंबर चार के गुत्थी को भी सुलझाना चाहेंगे। भारतीय टीम के हिट मैन रोहित शर्मा ने वर्ल्ड कप के शुरुआत के पहले अपना खास प्लान बताया है। रोहित ने कहा कि यह एक बड़ा सपना सच होने जैसा है। कोई भी बच्चा जब बड़ा हो रहा होता है, तो वह अपनी-अपनी फील्ड के ऐसे ही सर्वोच्च पलों के सपने संजोता है। बतौर क्रिकेट जब आप ग्रो करते हैं, तो आपके दिमाग में वर्ल्ड कप खेलने के ही सपने होते हैं कि आप भी उस टीम का हिस्सा बने, जो वर्ल्ड कप में हिस्सा लेगी और उसे जीतें- हर युवा के सपनों की कहानी ऐसी ही होती है। मेरा भी ऐसा ही सपना है।

उन्होंने कहा, इस मौके पर मुझे जो चाहिए वह धैर्य है जोश नहीं, क्योंकि मैं अपने हिस्से की उतनी क्रिकेट खेल चुका हूं, जिससे मैं यह समझ सकूं कि मेरे लिए क्या काम करता है और क्या नहीं। जब कभी भी मैंने उत्साह और जोश दिखाया है तो मैं अपनी रणनीतियों से भटकता ही दिखा हूं। यह मेरे साथ कई बार हो चुका है। जब आप दिमागी रूप से सही फ्रेम में नहीं होते, तो आप सही फॉर्म में भी नहीं हो सकते। ज्यादा उत्साह दिखाने से मेरा नुकसान ही हुआ है। अलग-अलग चीजें अलग-अलग लोगों के लिए काम आती हैं।

अपनी तैयारी के बारे में बताते हुए रोहित शर्मा ने कहा,  जो मेरे लिए काम करता है मैं उसी पर काम करूंगा। मैं अपनी योजनाओं के साथ ही खेलने उतरूंगा। मैंने जो दोहरे शतक बनाए हैं, तो आपने देखा होगा कि मैंने इस पारी में कितनी बॉल खर्च कीं। मैं पहले अपने पहले 10 रन पर सोचता हूं, फिर पहले 50 रन पर और फिर पहले 70-80 रन। यह बहुत कम ही होता है कि पहली 5 बॉल पर 10 रन बन जाएं या पहली 25 बॉल पर ही 50 रन बना दूं। आप समझ रहे हैं मैं क्या कहना चाह रहा हूं- लेकिन मैं वहां मौजूद होता हूं। मैं अपने कुछ निश्चित प्लान से ही काम करता हूं, जिन पर मैं खरा उतरा हूं। कभी-कभी ऐसे भी दिन आते हैं, जब मैं खूब रन उड़ाता हूं।