पढ़िए,कंदील बलोच के आखिरी इंटरव्यू की 10 खास बातें...

नई दिल्ली (16 जुलाई) :  पाकिस्तान की इंटरनेट सेंसेशन कंदील बलोच की शनिवार को मुल्तान में सगे भाई ने गोली मार कर हत्या कर दी। हम आपको बताने जा रहे हैं कि कंदील ने एक दिन पहले दिए इंटरव्यू में क्या क्या कहा था।  टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 'पाकिस्तान की पूनम पांडे' की पहचान के तौर पर जाने वाली कंदील ने ये 10 खास बातें कहीं-

1. वो कहते हैं कि मैं पाकिस्तान को बदनाम कर रही हैं। लेकिन मैं रूकूंगी नहीं, इतना तय है कि सर पर दुप्पटा तो पहनने वाली नहीं हूं।

2. पाकिस्तान के एक और इंटरनेट सेंसेशन ताहेर शाह से तुलना किया जाना मुझे पसंद नहीं। मैं मॉडल-एक्ट्रेस हूं, वो जोकर है।

3. शाहिद अफरीदी की पहली मैं बहुत बड़ी फैन थी। लेकिन T20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की हार के बाद मैं उनसे नफ़रत करने लगी।

4.  मैं 17 साल की थी जब मेरी जबरन शादी कर दी गई थी। मैं पढ़ना चाहती थी, मुझे पढ़ने नहीं दिया गया। अब मैं कामयाब हूं तो कई लोग मुझसे पैसे ऐंठने के लिए सामने आने लगे। (कंदील के पूर्व पति आशिक हुसैन पर कंदील से पैसे ऐंठने के लिए आरोप लगा था)  

5. आशिक हुसैन से मैं अपने बच्चे को वापस लेना चाहती हूं। मेरे परिवार ने ऐसा करने से मना करने की हिदायत दी है। मैं देश से बाहर जाना चाहती हूं।

6. मुफ्ती-मौलवियों की पाकिस्तान में बड़ी फॉलोइंग है। इस्लामिक देशों में उनका ही राज चलता है। मुफ्ती अब्दुल कावि ने मुझे न्योता दिया था और मैं उनसे मलिने गई थीं। मैं इस्लाम पर उनसे कुछ सीखना चाहती थी। लेकिन उनसे बात करते ही मुझे समझ आ गया था कि वो फर्ज़ी आदमी है। इस वजह से मैंने फोटो के ज़रिए उसे एक्सपोज़ कर दिया। इसके बाद मुझे धमकी भरे फोन आने लगे।

7. पाकिस्तान के लोग मुझे स्वीकार नहीं करते। मेरे लिए बहुत आसान हो जाएगा अगर मैं भारत में काम करूं।

8. मैंने पाकिस्तान के गृह मंत्रालय से सुरक्षा की गुहार लगाई लेकिन कुछ नहीं हुआ। इसलिए मुझे अंडरग्राउंड रहना पड़ रहा था।

9. भारत में मैं एक बंदे की फैन हूं- वो हैं अमिताभ बच्चन। विराट कोहली हैंडसम है। लेकिन मैं स्ट्रिप सिर्फ अमिताभ बच्चन के लिए करूंगी।

10. क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की मैं बहुत बड़ी फैन हूं। मैं उनके घर भी गई थी। अभी जब उनकी तीसरी शादी की ख़बरें आई थीं तो मेरा दिल टूट गया था। लेकिन बाद में इमरान ने ट्विटर पर खुद इसका खंडन किया तो मेरी जान में जान आई।