हैदराबाद टेस्ट पर टीम इंडिया का शिकंजा, जीत से महज 7 विकेट दूर

हैदराबाद (12 फरवरी): हैदराबाद में भारत और बांग्लादेश के बीच खेले जा रहे एकलौते टेस्ट मैच पर भारत ने अपना शिकंजा कस दिया है। हैदराबाद टेस्ट पर कब्जा करने से टीएम इंडिया अब महज 7 विकेट दूर है। आनी मैच के आखिरी दिन कल भारतीय गेंदबाजों को बांग्लादेश के 7 बल्लेबाजों को आउट करना होगा। 459 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेशी टीम के 3 तीन विकेट झटक कर टीम इंडिया ने यहां चल रहे एकमात्र टेस्ट मैच में शिकंजा कस लिया है। चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद बांग्लादेशी टीम का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 103 रन रहा।

सोमवार को मैच के पांचवें और आखिरी दिन भारत जीत के लिए बांग्लादेश के शेष 7 विकेट चटकाना चाहेगा जबकि बांग्लादेश को जीत के लिए 356 रनों की और दरकार है। जो पिच को देखते हुए लगभगद असंभव नजर आ रहा है।

शकिब-अल-हसन (21 नाबाद) और महमदुल्लाह (9 नाबाद) के कंधों पर आखिरी दिन टीम को हार से बचाने की जिम्मेदारी होगी। भारत की ओर से अश्विन ने 2 तो रविंद्र जडेजा के खाते में एक विकेट आया।

चौथे दिन भारत ने चायकाल के बाद अपनी दूसरी पारी 4 विकेट खोकर 157 रन पर घोषित कर दी। इसी के साथ बांग्लादेश को भारत ने जीत के लिए 459 रन की चुनौती दी। चेतेश्वर पुजारा ने शानदार अर्धशतक (54 रन) ठोंका तो दूसरी ओर रविंद्र जडेजा ने भी तेज 10 गेंदों पर नाबाद 16 रन बनाए।

भारतीय रनमशीन विराट कोहली ने मैच की पहली पारी में दोहरा शतक ठोंक कई कीर्तिमान अपने नाम किए थे। जिसके बाद दूसरी पारी में भी उनसे धुआंधार पारी की ही उम्मीद थी। दो चौका और एक छक्का लगा चुके कोहली लय में भी नजर आ रहे थे। लेकिन बड़ा शॉट लगाने की फिराक में शकिब के ओवर में कैच आउट हो गए। आउट होने से पहले उन्होंने 40 गेंदों पर 38 रनों का योगदान दिया।

बांग्लादेश को चौथे दिन के पहले ही सेशन में ऑलआउट कर टीम इंडिया को 299 रनों की बड़ी बढ़त मिली।दूसरी पारी में बड़ी बढ़त लेने के फिराक से उतरी टीम इंडिया को बांग्लादेशी तेज गेंदबाज तस्कीन अहमद ने लगातर झटके दिए। दोनों ही ओपनर मुरली विजय (7) और केएल राहुल (10) रन जल्द ही पैवेलियन लौट गए।

इसके पहले इस एकमात्र टेस्ट के चौथे दिन के पहले ही सेशन में टीम इंडिया ने मेहमान टीम की पहली पारी 388 रन पर खत्म कर दी। रविवार के खेल में दिन के पहले ही ओवर में भारत को कायमाबी मिली और बांग्लादेश का सातवां विकेट गिर गया। भुवनेश्वर कुमार ने अर्द्धशतक जमाकर खेल रहे मेहदी हसन मिराज को क्लीन बोल्ड कर दिया।

टीम इंडिया को दिन की दूसरी कामयाबी उमेश यादव ने दिलाई। उन्होंने टी. इस्लाम को 10 रन के निजी स्कोर पर साहा के हाथों कैच आउट करवा दिया।

इसके बाद रवींद्र जड़ेजा ने तस्कीन अहमद को चलता किया। 8 रन के निजी स्कोर पर रहाणे ने उनका कैच लपका।

आखिरी विकेट शतकवीर कप्तान मुश्फिकुर रहीम का गिरा, उन्होंने 127 रनों की ऐतिहासिक पारी खेली। अश्विन ने साहा के हाथों उन्हें कैच आउट कराया। भारत ने पहली पारी में 687 रन बनाए थे।