हैदराबाद टेस्ट पर भारत की पकड़ मजबूत, अब भी 365 रन पीछे बांग्लादेश

हैदराबाद, (11 फरवरी): हैदराबाद में भारत और बंग्लादेश के बीच खेले जा रहे इकलौते टेस्ट में तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक मेहमान टीम ने 322/6 रन बना लिए हैं। बंग्लादेश अब भी भारत की पहली पारी के स्कोर से 365 रन पीछे है। कप्तान मुशफिकुर रहीम 81 रन और मेहदी हसन 51 रन बनाकर खेल रहे हैं। दोनों ने सातवें विकेट के लिए बेशकीमती नाबाद 87 रन जोड़े हैं। 235 रन पर बांग्लादेश के छह विकेट गिर जाने के बाद ऐसा लगा था कि मेहमान टीम की पारी का अंत निकट हैं। लेकिन इसके बाद मुशफिकुर रहीम ने कप्तानी पारी दिखाई। उन्हें मेहदी हसन का साथ मिला और वे दोनों बांग्लादेश की पारी को 300 के पार ले जाने में सफल रहे।

इससे पहले बांग्लादेशी स्टार ऑलराउंडर शाकिब उल हसन 82 रन बनाकर अश्विन के हाथों आउट हुए। कप्तान मुशफिकुर रहीम के साथ उन्होंने पांचवें विकेट कि लिए 107 रन की साझेदारी की। शाकिब ने भारत के खिलाफ अपनी 9 पारियों में पहली बार अर्धशतक लगाया। इसके बाद रवींद्र जडेजा सब्बीर रहमान को 16 रन के स्कोर पर अपनी फिरकी में फसा लिया।

हैदराबाद टेस्ट के तीसरे दिन भारत को विकेट हासिल करने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा. बांग्लादेश के अनुभवी बल्लेबाज तमीम इकबाल (25) रन आउट हो गए।  वे कल के अपने स्कोर में एक ही रन का इजाफा कर पाए। मेहमान टीम को 44 रन पर दूसरा झटका लगा। इसके बाद मोमिनुल हक (12) भी  ज्यादा कुछ नहीं कर पाए। उमेश यादव ने उन्हें एलबीडब्ल्यू किया। जबकि महमूदुल्लाह (28 रन) को इशांत शर्मा ने एलबीडब्ल्यू कर बांग्लादेश को चौथा झटका दिया। इससे पहले उमेश यादव ने टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई, जब उन्होने सलामी बल्लेबाज सौम्य सरकार (15 रन) को अपने पहले ही ओवर में विकेट के पीछ ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच कराया। बांग्लादेश को पहला झटका 38 के स्कोर पर लगा।

इससे पहले हैदराबाद टेस्ट के दूसरे दिन भारत ने 687/6 के स्कोर पर अपनी पहली पारी घोषित कर दी थी। कप्तान विराट कोहली (204 रन) के दोहरे शतक के अलावा मुरली विजय (108 रन) और ऋद्धिमान साहा (नाबाद 106) के शतकों की बदौलत भारत ने यह रिकॉर्ड स्कोर खड़ा किया, जो बांग्लादेश के खिलाफ उसका सर्वाधिक स्कोर है।