साली को पाने की चाह में शख्स ने किया यह घिनौना काम

रवि आजाद/मोहित मल्होत्रा, पटियाला (12 अप्रैल): पंजाब में अपनी साली को पाने की चाह में एक व्यक्ति ने ऐसा काम किया, जिसने रिश्‍तों को शर्मसार कर दिया। पति ने साली के प्‍यार में अपनी ही पत्नी की हत्या कर दी और खुद को बचाने के लिये फिल्मी अंदाज में एक ड्रामा रचा।

पंजाब के पटियाला के रहने वाला चरनजीत की शादी 8 साल पहले गुरप्रीत से हुई थी और दोनों ने लव मैरिज की थी। 5 दिसंबर को पत्नी गुरप्रीत को लेकर चरनजीत मोटरसाइकिल से अपने ससुराल गया था लेकिन वो जान-बूझकर अपनी बेटी को घर ही छोड़ गया और ससुराल से लौटते वक्त उसने सुनसान रास्ता चुना। इसी दौरान उसने एक कहानी गढ़कर शौर मचाया और लोगों को बताया कि अज्ञात लोगों ने लूट के इरादे से उसकी आंखों में मिर्च झोंक दी है जिसके बाद वो पत्नी समेत नहर में जा गिरा और किसी तरह से बचकर नहर से वो तो बाहर आ गया लेकिन उसकी पत्नी नहर में ही है। उसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई और पुलिस ने नहर से गुरप्रीत की लाश बरामद की।

घटना के बाद से ही चरनजीत की गढ़ी कहानी गुरप्रीत के परिवार और पुलिस के गले नहीं उतर रही थी। अब घटना के करीब चार महीने बाद इस वारदात का पूरा सच सबसे सामने आ गया है। गुरप्रीत को उसके मामा लाल सिंह ने गोद ले रखा और अपनी बेटी की ही तरह पाला था। लाल सिंह ने पुलिस को बताया कि चरनजीत स्टेट लेवल का तैराक रह चुका है, ऐसे में उसने नहर में कूदकर पत्नी को बचाने की कोशिश क्‍यों नहीं की। साथ ही पुलिस को पता लगा कि चरनजीत ने करीब साल पहले गुरप्रीत का एक करोड़ का बीमा भी करवाया था। साथ ही मेडिकल जांच में भी चरनजीत की आंखों में मिर्ची डले होने की बात झूठी निकली जिसके बाद चरनजीत ने आंख में मच्छर गिरने की वजह से बाइक के नहर में गिरने की कहानी गढ़ी। चरनजीत से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने कबूला कि उसने ही अपनी पत्नी को नहर में धक्का दिया था और फिर खुद भी नहर में छलांग लगाकर ये पूरा नाटक रचा था।

पुलिस ने जब चरनजीत की कॉल डिटेल्स निकाली तो पूरी कहानी साफ हो गई। पुलिस को पता लगा कि चरनजीत का अपनी साली से अफेयर चल रहा था और इस अफेयर में आड़े आ रही अपनी पत्नी को हटाने के लिये ही उसने ये पूरा नाटक रचा था। वारदात के दिन चरनजीत अपनी 6 साल की बेटी को जनबूझकर घर छोड़ का आया उसने अपने ससुराल में अंधेरा होने तक का इंतजार किया और वापिस जाते हुए नहर वाले सुनसान रास्ते को चुना, लेकिन इतने शातिराना अंदाज में कत्ल करके भी वो अपने गुनाह पर पर्दा डालने और पुलिस और कानून को धोखा देने में कामयाब नहीं हो सका।