इस मुस्लिम महिला ने किया पीएम मोदी का सपोर्ट, घर पहुंचते ही पति ने दिया तीन तलाक

इस मुस्लिम महिला ने क‍िया मोदी का सपोर्ट, घर पहुंचते ही पति ने दी ऐसी सजा

नई दिल्ली (10 दिसंबर): सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी झटके में तीन तलाक अभी खत्म नहीं हुआ है। उत्तर प्रदेश में एक शख्स ने अपनी बीवी को इसलिए तलाक दे दिया क्योंकि वह तीन तलाक के समर्थन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सपोर्ट करने वाली एक रैली में शामिल हुई थी। मामला बरेली के किला क्षेत्र के इंग्लिशगंज मोहल्ले का है, जहां की निवासी सायरा को उसके पति दानिश खान ने न केवल मारा पीटा बल्कि एक साल के मासूम के साथ उसे घर से बाहर निकाल दिया। इससे पहले सायरा गुरुवार (07 दिसंबर) को मेरा हक फाउंडेशन की तरफ से निकाली गी एक रैली में शामिल हुई थी।

पीड़िता सायरा ने बताया, "7 सितंबर को मेरा हक फाउंडेशन की ओर से केंद्रीय मंत्री मुखतार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी के साथ मिलकर हमने पीएम के सपोर्ट में एक रैली निकाली गई थी।

शाम को रैली समाप्त होने के बाद जब मैं घर पहुंची तो पति दानिश खान को मेरा रैली में जाना नागवार गुजरा। जिसके बाद उन्होंने मुझे पीटना शुरू कर दिया और फिर तीन तलाक देकर बेटे के साथ घर से बाहर निकाल दिया। इस दौरान मैं रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक दरवाजे पर बैठी रही। सुबह सूचना मिलने के बाद मायके वाले आ गए। फिर उन्होंने दानिश को समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं माना।" वहीं, पीड़िता ने थाने में न्याय की गुहार लगाई, जहां पुलिस वालों ने भी उसकी नहीं सुनी। पीड़िता अब अपने एडवोकेट से बात कर कोर्ट की शरण लेने की बात कही है।