पाकिस्तान: बलूचिस्तान प्रांत के करीब 500 विद्रोहियों ने किया आत्मसमर्पण

नई दिल्ली ( 22 अप्रैल ): पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत में विभिन्न प्रतिबंधित संगठनों के करीब 500 विद्रोहियों ने आत्मसमर्पण कर दिया है। शुक्रवार को विद्रोही प्रतिबंधित संगठन बलोच रिपब्लिकन आर्मी (BRA), बलोच लिबरेशन आर्मी (BLA) और अन्य चरमपंथी संगठनों से जुड़े हुए विद्रोही सरेंडर करने वालों में हैं।

ये संगठन बलूचिस्तान के सुरक्षाकर्मियों और कैम्पों को कथित रूप से निशाना बना चुके हैं। आजादी समर्थक गुटों के 434 विद्रोहियों का सरेंडर इस्लामाबाद के लिए राहत की सांस है। ब्लूचिस्तान में आजादी की मांग पुरानी है। पिछले साल आजादी समर्थकों ने पाकिस्तान का विरोध करते हुए भारतीय झंडा और पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर लहराई थी।

बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री सन्नुल्लाह जेहरी ने आरोप लगाया कि लंबे समय से विदेशी एजेंसियां प्रांत के इन मासूम लोगों को भड़का कर यूज कर रही हैं। गैर-कानूनी संगठन बीएलए के कमांडर शेर मोहम्मद ने कहा, 'हमें ऐंटी-पाकिस्तान तत्वों से धोखा मिला है।'

आपको बता दें कि बलूचिस्तान में चीन ग्वादर पोर्ट विकसित कर रहा है जिसका व्यापारिक और सामरिक महत्व है। चीन पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर (CPEC) बलूचिस्तान से होकर गुजरेगा। अशांत बलूचिस्तान CPEC के नजरिए से भी अहम है। ऐसे में आजादी समर्थक गुटों के करीब 500 विद्रोहियों का सरेंडर करना पाकिस्तान सरकार के लिए राहत की बात है।