ऋतिक ने पहली बार FIR में लिया कंगना रनौत का नाम

मुंबई (31 मार्च): कंगना रनौत को किसी प्रकार की परेशानी न हो इसलिए ऋतिक रोशन कहीं पर भी उनका नाम नहीं लेते थे। लेकिन अब ऋतिक रोशन ने पहली बार कंगना का नाम अपने एफआईआर में लिया है। शुक्रवार को ऋतिक ने एक फेक मेल आईडी की एफआईआर दर्ज कराई है, जिसमें कंगना का नाम भी है।

ऋतिक रोशन ने साल 2014 में एक फेक आईडी को लेकर साइबर पुलिस में शिकायत की थी कि उनके नाम से कोई फेक आईडी बनाकर एक फैन से बात कर रहा है। हालांकि उस समय उन्होंने किसी का भी नाम नहीं लिया था। वो जानते थे कि अगर वो कंगना का नाम लेते हैं तो पुलिस उन्हें पूछताछ के लिए बुलाएगी। लेकिन शुक्रवार को कराए गए एफआईआर में भी ऋतिक रोशन ने बताया कि कंगना उनके फेक आईडी के संपर्क में थी। उन्होंने इस आईडी पर कई मेल भेजे।

ऋतिक द्वारा केस दर्ज कराए जाने के बाद बांद्रा कुर्ला कॉम्‍प्‍लेक्‍स स्‍थित साइबर क्राइम पुलिस ने कंगना और उनकी बहन रंगोली को समन भेजा है। इसमें कहा गया है कि वे सात दिन के अंदर अपना बयान दर्ज कराएं।

बता दें कि रंगोली भी इस केस में गवाह है। पुलिस सूत्रों के अनुसार कंगना और फर्जी मेलर के बीच हजारों मेल एक्‍सचेंज हुए हैं। इधर, ऋतिक का कहना है कि इस मेल आईडी को वे नहीं चला रहे थे। जबकि कंगना का कहना है कि ऋतिक ही इस मेल आईडी को चला रहे थे। 

फेक आईडी का पता कैसे चला  ऋतिक द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर के अनुसार फेक आईडी मामले का खुलासा 24 मई 2014 को हुआ। दरअसल इस दिन दोनों करण जौहर की बर्थडे पार्टी में एक दूसरे से मिले और कंगना ने उनके काम की प्रशंसा करने के लिए ऋतिक को थैंक्स कहा। इसके बाद ऋतिक ने पलटकर जवाब दिया कि उन्होंने फिल्‍म नहीं देखी और न ही कभी उनके साथ ईमेल के जरिए बात की। 

इधर, कंगना ने दावा किया था कि ऋतिक ने ही उनसे बात की थी। ऋतिक ने बताया था कि उनकी पर्सनल ईमेल आईडी [email protected] है जबकि कंगना [email protected] के संपर्क में थी। ऋतिक ने कंगना को कानूनी नोटिस भेजकर माफी मांगने की भी मांग की थी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि वो सारे चैट सबके सामने रख देंगे। बता दें कि चैट में दोनों के अंतरंग फोटो भी थे।