इंजीनियरिंग के लिए भी ‘नीट’ की तरह एक परीक्षा की तैयारी

नई दिल्ली(23 दिसंबर): मेडिकल में ‘नीट’ की तर्ज पर इंजीनियरिंग में भी एकल प्रवेश परीक्षा आयोजित करने की तैयारी चल रही है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय जेईई मेन परीक्षा का दायरा बढ़ाकर सभी इंजीनियरिंग दाखिलों के लिए इसे अनिवार्य बनाने के पक्ष में है।

-एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक पूर्व में कई शिकायतें मिल चुकी हैं और मानव संसाधन विकास मंत्रालय सिस्टम को और पार्रदर्शी बनाना चाहता है।

-बता दें जेईई में औसतन 12-13 लाख छात्र हर साल बैठते हैं। यह संख्या इंजीनियरिंग में होने वाले एडमिशन की कुल संख्या से ज्यादा है। अभी सीबीएसई जेईई का एग्जाम करवाता है जिसके आधार पर छात्रों  को कॉलेज में दाखिला मिलता है।