12 मिनट में जानिए सामने वाला 'फ्लर्ट' तो नहीं कर रहा...

नई दिल्ली (30 जून): आम तौर पर जब भी कोई नया पुरुष या महिला आपने सामने आते हैं, और बातचीत के लिए अप्रोच करते हैं। तो दोनों में ही एक दूसरे को जानने के लिए उत्सुकता रहती है। शुरुआत में दोनों ही अनजान होने पर थोड़ा हैजिटेट भी करते हैं। ऐसे में मुलाकात में बातचीत को आगे कैसे बढ़ाया जाए, इसको लेकर मन में कई तरह की बातें आती हैं।

इन्ही में से एक सवाल है- 'फ्लर्टिंग' का। क्या सामने वाला शख्स आपसे फ्लर्ट तो नहीं कर रहा? ये सवाल आमतौर पर विपरीत लिंग के व्यक्ति के मन में आता रहता हैं। ऐसे में आपको बता दें, कि सिर्फ 12 मिनट में आप ये जान सकते हैं, कि क्या ऐसा सच में है या नहीं।

ऐसे में मुलाकात में शुरुआती बातचीत के दौरान शुरुआती मिनटों में इन बातों पर जरूर गौर करें-   

1-3 मिनट

अगर कोई तारीफ करने से आपसे बात शुरू करता है। साथ ही आपकी कही बातों से उत्साहित होता है। ऐसे में यह अच्छा संकेत है कि वह दिलचस्पी ले रहा है।

'मेलऑनलाइन' की रिपोर्ट के मुताबिक, रिसर्चर्स ने इसपर अध्ययन किया। जिनके मुताबिक, कुछ लोग बातचीत की शुरुआत में ही फ्लर्ट करने वाली एक झलक दिखा देते हैं।

किसी प्वाइंट पर टांगों को क्रॉस करने का मतलब है कि वह व्यक्ति दूसरे में दिलचस्पी नहीं ले रहा। 

इसी तरह अगर एक महिला भी ज्यादा सवाल नहीं पूछती, या कंधें ऊंचे करती है, तो इसका मतलब है कि वह दिलचस्पी नहीं ले रही है।

4-6 मिनट

अगर एक व्यक्ति अभी भी आपकी तरफ आकर्षित है, तो वे और भी सकारात्मक तौर पर आगे बढ़ सकते हैं। ऐसे में वे खुली हथेलियों के इशारों का भी इस्तेमाल कर देते हैं।

7-9 मिनट

अब लोग तारीफ में कसीदे पढ़ना बंद कर देते हैं। इसकी जगह पुरुष पार्टनर के साथ अगर वे किसी बिंदु पर इंट्रेस्टेड हैं, एक दूसरे को टकटकी लगाकर देखते रहते हैं। तब तक महिलाएं ऐसे में पर्सनल डीटेल्स में पड़ने लगती हैं।

10-12 मिनट

बातचीत के आखिर तक महिलाएं पूरी तरह खुलने लगती हैं। वे आनंदपूर्ण तरीके से इशारे भी करती हैं, अगर उनका इंट्रेस्ट बरकरार रहता है।