कहीं आपका आईफोन 7 प्लस नकली तो नहीं है- ऐसे करें पता..!

नई दिल्ली (16 जनवरी):  आईफोन 7 प्लस अब तक का सबसे हाईटेक स्मार्टफोन है। एप्पल ने पहली बार आईफोन में डुअल कैमरा दिया है। साथ ही, पावरफुल प्रोसेसर के साथ बैटरी बैकअप से लेकर दूसरे फीचर्स भी हाईटेक हैं। यही वजह है कि मार्केट में आईफोन 7 प्लस की डिमांड काफी है। ऐसे में जो यूजर्स नया आईफोन 7 प्लस लेने जा रहे हैं तो वे इस बात का ध्यान रखें की मार्केट में फेक आईफोन 7 प्लस भी मिल रहा है। ये देखने में पूरी तरह असली नजर आता है, लेकिन इसके नकली होने की पहचान आसानी से की जा सकती हैरियल और फेक आईफोन 7 प्लस के बॉक्स में काफी अंतर है। रियल बॉक्स पर मॉडल का कलर का फोटो प्रिंट है। साथ ही, सभी कॉर्नर पर एप्पल का लोगो लगा और आईफोन लिखा है। दूसरी तरफ, फेक बॉक्स के ऊपर मॉडल का फोटो नहीं है। ये पूरी तरह से ब्लैंक है। हालांकि, कॉर्नर पर आईफोन 7 लिखा है।रियल और फेक आईफोन 7 प्लस के बैक साइड में कंपनी का लोगो लगा हुआ है। रियल आईफोन पर लोगो बैक कवर के लेवल पर है। दूसरी तरफ, फेक मॉडल पर लोगो छोड़ा सा अंदर की तरह है। साथ ही, ये मिरर की तरह काम करता है।रियल आईफोन 7 प्लस में कंपनी iOS 10.0.1 दे रही है। यानी ये पुराने सभी मॉडल की तुलना में सबसे फास्ट और एडवांस ऑपरेटिंग सिस्टम है। वहीं, फेक आईफोन 7 प्लस के मॉडल में iOS 9.3.1 ऑपरेटिंग सिस्टम आ रहा है। इसकी प्रोसेसिंग स्पीड भी काफी स्लो है।कंपनी ने पहली बार आईफोन 7 में ऑडियो जैक नहीं दिया है। इसकी जगह उसने एयर पॉड्स दिए हैं। ये वायरलैस कनेक्टिवटी पर काम करते हैं। दूसरी तरफ, फेक मॉडल में ऑडियो जैक दिया गया है।