केजरीवाल की प्रेम कहानी, दिल की बात कहने में लगे थे कई महीने

नई दिल्ली (13 फरवरी): अपनी चतुराई और बातों से दुनिया को अपनी ओर आकर्षित करने वाले केजरीवाल को अपने प्यार का इजहार करने में महीनों लग गए थे। वेलेंटाइन डे पर हम बता रहे हैं केजरीवाल की लव स्टोरी.... 

लगभग सभी जानते हैं कि बेबाक और स्पष्ट विचार के केजरीवाल राजनीति से पहले आईआरएस में काम करते थे। इसी जॉब की ट्रेनिंग के दौरान उनकी मुलाकात सुनीता नाम की लड़की से हुई। 

इसके बाद अरविंद केजरीवाल और सुनिता अब रोज मिलने लगे। वो रोज एक-दूसरे के साथ घंटो वक्त बिताया करते थे। इसी बीच दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे। यही वो दिन थे जब दोंनो का प्यार परवान चढ़ा।

घंटो साथ बिताने के बाद भी केजरीवाल अपने दिल की बात कहने से कतराते थे। वो कई महीनों तक अपनी दिल की बात बाहर नहीं निकाल सके। तभी एक दिन दोनों ट्रेनिंग एकेडमी के गार्डन में दोनों का आमना-सामना हुआ और यहीं पर इस जोड़े ने एक-दूसरे से अपने प्यार का इजहार किया।

दरअसल, सुनीता और केजरीवाल दोनों एक ही जाती के थे। यही कारण था कि दोनों के परिवार को जब इस रिश्ते की बात का पता चला तो उन्होंने कोई ऑब्जेक्शन उठाए बिना दोनों की शादी की बात को मंजूरी दे दी। 1994 में अरविंद और सुनीता ने शादी कर ली। केजरीवाल की एक बेटी और एक बेटा है।