किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार ने किया रोडमैप तैयार

नई दिल्ली (24 मई): जब से नरेंद्र मोदी देश के पीएम बने हैं उस दिन से वो किसानों की कर्ज माफी को लेकर नए-नए ऐलान करते रहते हैं। हां ये बात अलग है कि जमीनी तौर पर कितने लागू हो पाते हैं। पीएम मोदी ने ये भी ऐलान किया है कि वो 2022 तक देश के सभी किसानों का कर्ज माफ कर देंगे।सरकार के सलाहकारों के मुताबिक इसका सबसे सही रास्ता है कि फसल की कीमत समर्थन मूल्य से कम होने पर सरकार किसानों को कैश मुआवजा दे। फसल की लागत से 50 फीसदी ज्यादा लाभ दिलाने के लिए नीति आयोग में कई तरीकों पर विचार किया गया। गौरतलब है कि सरकार 2 दर्जन फसलों का मूल्य अनाउंस करती है लेकिन गेहूं और चावल के अलावा यह केवल कुछ ही फसलों को खरीदती है।

कुछ सालों में फसल में पैदावारी लगतार बढ़ रही है और कीमतों में लगातार कमी आ रही है। जो कि किसानों के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है। रमेश चंद के मुताबिक फसल की लागत से 50 फीसदी ज्यादा समर्थन मूल्य निर्धारित करना भी किसानों की आय को दोगुना कर सकता है। जिससे किसानों की परेशानियों को खत्म किया जा सकेगा।