योगी के आने से पहले अस्पताल ने रेप पीड़‍िता को जबरन दी छुट्टी

नई दिल्ली (4 जून): योगी सरकार के आने के बाद भी यूपी में कानून व्यवस्था सुधरने का नाम नहीं ले रही थी। अब मीडिया रिपोर्ट से जानकारी‍ मिल रही है कि रविवार को सीएम योगी के इलाहाबाद दौरे से पहले घबराए जिला महिला चिकित्सालय (डफरिन) एडमिनिस्ट्रेशन ने गैंगरेप विक्टिम 7 साल की बच्ची को जबर्दस्ती डिस्चार्ज कर दिया।

विक्टिम की मां का कहना है कि शुक्रवार तक डॉक्टर कह रहे थे कि बच्ची को ठीक होने में वक्त लगेगा, लेकिन शनिवार को अचानक उसे डिस्चार्ज कर दिया। बता दें कि योगी अपने हर दौरे में सरकारी हॉस्पिटल्स का इंस्पेक्शन करते हैं। चर्चा है कि हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन को डर था कि कहीं योगी गैंगरेप विक्टिम से बात न कर लें। इसलिए आनन-फानन में उसे डिस्चार्ज कर दिया गया।

करछना की सर्कल ऑफिसर (सीओ) अलका भटनागर ने भी माना कि हॉस्पिटल ने विक्टिम को डिस्चार्ज कर दिया है। वो घर पर है। उसके घर पर एक महिला और एक पुरुष कांस्टेबल सिक्युरिटी में लगाया गया है।

आपको बता दें कि यमुनापार इलाके में 25 मई देर रात घर में मां और छोटी बहन के साथ सोई 7 साल की बच्ची को कुछ लोग उठाकर ले गए और गैंगरेप किया। बच्ची की हालत बिगड़ी तो आरोपियों ने उसे घर के सामने ले जाकर छोड़ दिया और फरार हो गए थे। जिसे इलाज के लिए डफरिन में भर्ती कराया गया था।