हनीप्रीत ने कोर्ट को बताया, इसलिए नहीं आ रही हूं सामने

नई दिल्ली (26 सितंबर): राम रहीम के जेल जाने के बाद से ही गायब हनीप्रीत ने दिल्ली हाईकोर्ट में जमानत याचिका दायर की थी, जिसपर कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखते हुए उसे 12 घंटे के अंदर सरेंडर करने को कहा है। हालांकि हाईकोर्ट में दिए अपने हलफनामे में उसने खुलासा किया कि वह इसलिए सामने नहीं आ रही है।

हाईकोर्ट में दिए गए जमानत की अर्जी में हनीप्रीत ने कहा है कि उसकी जान को खतरा है। ड्रग्स माफिया और असामाजिक तत्वों से उसकी जान को खतरा है। इसलिए वो पंचकूला और चंडीगढ़ नहीं जा सकती है। हलफनामे में हनीप्रीत ने कहा है कि उसकी छवि सबसे खतरनाक महिला की बना दी गई है। इसलिए वो बेहद डरी हुई है।   हनीप्रीत ने राम रहीम से रिश्ते पर कहा है कि जो कुछ भी दिखाया जा रहा है वो पूरी तरह गलत है। हनीप्रीत ने हरियाणा पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अपने हलफनामा में कहा है कि हरियाणा पुलिस ने उसकी छवि को दागदार बना दिया है।

पति ने कहा था- राम रहीम की बेटी नहीं, प्रेमिका है हनीप्रीत - हनीप्रीत ने पिटीशन में खुद को सिंगल वुमन बताया है। बता दें कि हनीप्रीत की शादी हुई थी, लेकिन तलाक हो गया था। राम रहीम से उसके कथित नाजायज रिश्तों की बातें भी सामने आई। - हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने 22 सितंबर को कहा था कि हनीप्रीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी नहीं, प्रेमिका है। - गुप्ता ने कहा था, "2011 में राम रहीम और मेरा कमरा साथ-साथ था। मैंने एक रात बाबा के कमरे में दोनों को न्यूड देखा था। राम रहीम ने इस घटना के बाद धमकी भी दी थी कि किसी को बताया तो तेरी जान नहीं बचेगी।"