पाक ने हमला किया तो गोलियां नहीं गिनेंगे- राजनाथ

नई दिल्ली (8 अक्टूबर): पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि अगर हमला हुआ तो भारत गोलियां नहीं गिनेगा। राजनाथ सिंह ने राजस्थान में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की और कहा कि भारत ने कभी किसी देश पर हमला नहीं किया, लेकिन खुद पर हमला होने की स्थिति में भारत जबाव देते हुए गोलियां नहीं गिनेगा। 

- अपने राजस्थान दौरे के दूसरे दिन गृहमंत्री राजनाथ सिंह सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की मुनाबाओ सीमा चौकी तक गये।

- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बीएसएफ के जवानों को दिए अपने संबोधन में कहा, 'भारत ने कभी किसी पर हमला नहीं किया और दूसरों की जमीन हड़पने का हमारा कोई इरादा भी नहीं है। हमारी पंरपरा 'वसुधैव कुटुंबकम' की रही है। 

- हम कभी पहले गोलीबारी नहीं करते, लेकिन जब हम पर हमला हो जाए तो जवाब देते हुए हम गोलियां भी नहीं गिनते।'

- राजनाथ सिंह का यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब उड़ी हमले और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चरम पर है। 

- बीएसएफ की सराहना करते हुए राजनाथ सिंह ने भरोसा दिलाया कि केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए हर संभव काम करेगी। 

- उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर क्षतिग्रस्त हुए बाड़ की मरम्मत तत्काल करवाई जाएगी और आगे भी समय-समय पर मरम्मत का काम करवाया जाता रहेगा। 

- गृह मंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गश्त को और चाक-चौबंद बनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय सीमा के समानांतर एक सड़क भी बनवाई जाएगी और फ्लड लाइड्स भी लगवाई जाएंगी।

- कुछ अंतरराष्ट्रीय सीमा चौकियों पर फोन की सुविधा के अभाव का जिक्र करते हुए राजनाथ ने कहा कि सीमा के नजदीक और मोबाइल टॉवर लगवाए जाएंगे, जिससे संपर्क सुविधा सुनिश्चित की जाए। 

- उन्होंने अंतरराष्ट्रीय सीमा चौकियों के लिए और सैटेलाइट फोन दिए जाने का आश्वासन भी दिया। गृहमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार जल्द ही बुलेटप्रूफ जैकेट की कमी की समस्या का समाधान करेगी और कम वजन वाले बुलेटप्रूफ जैकेट मंगवाएगी। 

- दौरे के पहले दिन शुक्रवार को राजनाथ सिंह जैसलमेर जिले के मुरार और उससे लगी हुई अंतरराष्ट्रीय सीमा चौकी गए थे, जहां उन्होंने बीएसएफ जवानों से बातचीत भी की थी।