नाईक पर कार्रवाई बहुत जल्द, सरकार ने करार दिया बेहद खतरनाक

नई दिल्ली ( 27 अक्टूबर ) : केंद्र सरकार जल्‍द ही विवादित इस्‍लामिक उपदेशक जाकिर नाइक के खिलाफ कार्रवाई कर सकती है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नाइक और उनके एनजीओ इस्‍लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) को लेकर एक नोट तैयार किया है जिसमें नाइक के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई है। इस नोट में आईआरएफ को 'गैरकानूनी संगठन' बताया गया है।

जाकिर के बयानों, स्‍पीच को माना खतरनाक एक अंग्रेजी चैनल के मुताबिक उसने एक कॉपी हासिल की है जिसमें नाइक के खिलाफ कार्रवाई की बात कही गई है। साथ ही यह भी कहा गया है कि सरकार नाइक के एनजीओ को गैरकानूनी संगठन घोषित करने पर विचार कर रही है। नोट में सरकार ने माना है क‍ि जाकिर नाइक ने जो बयान और स्‍पीच दिए, वे आपत्तिजनक और स्‍वभाव से विस्फोटक हैं और इनके जरिए ओसामा बिन लादेन जैसे घोषित आतंकवादियों की प्रशंसा की गई है।

नोट में कहा गया है कि जाकिर नाइक विभिन्‍न धार्मिक समुदायों के बीच दुश्‍मनी और नफरत को बढ़ावा देते रहे हैं। साथ ही वह मुस्लिम युवाओं को आंतकवादी कृत्‍य के लिए प्रेरित करते रहे हैं।