पाकिस्तान ने 2015-2016 में 854 बार तोड़ा सीजफायर, 23 जवान शहीद

नई दिल्ली(7 मई): सरकार ने कहा है कि पाकिस्तान 2015 और 2016 में हर रोज सीजफायर का उल्लंघन किया। पाकिस्तान की इस हरकत में भारत के 23 जवान शहीद हुए।


- एक आरटीआई के जवाब में होम मिनिस्ट्री ने ये बातें कही हैं।


- होम मिनिस्ट्री की रिपोर्ट के मुताबिक, 2012 से 2016 के दौरान जम्मू-कश्मीर में 1,142 आतंकी घटनाएं हुईं। इसमें 236 जवान शहीद हुए और 90 सिविलियन्स भी मारे गए।


- "2012-16 के दौरान ही सिक्युरिटी फोर्सेस ने 507 आतंकियों को मार गिराया।"


- गृह मंत्रालय ने अपने जवाब में कहा, "पाकिस्तान ने 2016 में लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर 449 और 2015 में 405 बार सीजफायर वॉयलेशन किया।"


- होम मिनिस्ट्री के मुताबिक, "2012 में जम्मू-कश्मीर में 220 और 2016 में 322 आतंकी घटनाएं हुईं। 2016 में 82 जवान शहीद हुए और 15 सिविलियन्स मारे गए।"


- "2015 में 208 आतंकी घटनाएं हुईं। 39 जवान शहीद हो गए और 17 सिविलियन्स मारे गए। इस साल एनकाउंटर में सिक्युरिटी फोर्सेस ने 108 आतंकियों को मार गिराया।"


- "2013 में 170 आतंकी हमले हुए, जिसमें 53 जवान शहीद हो गए और 15 सिविलियन्स की मौत हो गई। फोर्सेस ने 67 आतंकियों को ढेर कर दिया।"


- "2014 में आतंकी घटनाओं में 47 जवान शहीद हुए, 28 सिविलियन्स मारे गए। फोर्सेस के साथ एनकाउंटर में 110 आतंकी मारे गए।"


- "2012 में 220 आतंकी हमलों में 15 जवान शहीद हुए। एनकाउंटर में फोर्सेस ने 72 टेररिस्ट को मार गिराया।"