भारतीय महिला हॉकी टीम की हर सदस्य को 1 लाख का ईनाम

नई दिल्ली (6 नवंबर): भारतीय महिला हॉकी टीम ने कल जापान के काकामिगहरा में खेले गए एशिया कप के फाइनल में चीन को बेहद रोमांचक मुकाबले में  शूटआउट में 5-4 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। भारतीय महिला टीम ने ना सिर्फ चीन से न सिर्फ अपना 8 साल पुराना बदला लिया, बल्कि 13 साल भारत एशिया कप पर कब्जा भी किया।

इतना ही नहीं इस जीत के साथ भारतीय महिलाओं ने 2018 के विश्व कप के लिए क्वॉलीफाई कर लिया है।  टीम इंडिया की इस कामयाबी से हॉकी इंडिया भी बेहद खुश है। हॉकी इंडिया ने टीम के हर सदस्य को 1-1 लाख रूपये  ईनाम में देने का ऐलान किया है।

आपको बता दें कि ये दूसरा मौका है जब भारतीय महिलाओं ने एशिया कप हॉकी अपने नाम किया है। 2004 में भारत ने जापान को हरा कर ये खिताब अपने नाम किया था। अबतक भारतीय टीम 4 बार इस टूर्नामेंट के फाइनल तक का सफर तय किया है। 1999 में भारत को दक्षिण कोरिया के हाथों 3-2 से खिताब हारना पड़ा था। वहीं 2009 में बैंकॉक में आयोजित इस टूर्नामेंट में चीन ने फाइनल में भारत को 5-3 से मात देकर उसके हाथों से खिताब छीन लिया था।