पाक पीएम ने दिया बड़बोला बयान, रिजिजू बोले पहले अपना घर संभालें शरीफ

नई दिल्ली (11 जुलाई): हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने पर घाटी में हिंसा जारी है। इस हिंसा को भड़काने का काम सीमा पार बैठे आतंकियों के आका हाफिज सईद और पाक के पीएम नवाज शरीफ भी कर रहे हैं। लगातार 5 दिन से घाटी में हो रही हिंसा में मरने वालों की संख्‍या अब तक 30 हो गई है।

बुरहान के मारे जाने पर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद ने रैली की। इसमें हिजबुल का चीफ सलाउद्दीन भी था, जिसका कमांडर बुरहान एनकाउंटर में मारा गया है। वहीं पाकिस्तानी पीएम ऑफिस की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया कि बुरहान की मौत पर नवाज शरीफ सदमे में हैं। बयान में कहा गया है कि पाक पीएम बुरहान के मारे जाने पर दुख जताते हुए भारतीय सेना की कार्रवाई की निंदा की।

इस पर होम मिनिस्टर स्टेट, किरण रिजिजू ने कहा, ''पाकिस्तान अपने वहां मानवाधिकारों के उल्लंघनों की चिंता करें। हमारे आंतरिक मामलों में दखल न दे।'' जम्मू-कश्मीर के हालात सुधारने के लिए होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने सोनिया गांधी और उमर अब्दुल्ला से फोन पर बात की।

- उमर अब्दुल्ला ने कहा, ''होम मिनिस्टर ने फोन किया था। हमने उनसे कहा कि सिक्युरिटी फोर्सेज प्रदर्शन को दबाने की ऐसी कोशिश न करें। लोगों की मौत से समस्या का हल नहीं होगा।''