HIV+ छात्र स्कूल से निकाला गया, NHRC ने पश्चिम बंगाल सरकार को भेजा नोटिस

नई दिल्ली (15 जनवरी): राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने पश्चिम बंगाल सरकार को नोटिस जारी किया है। यह नोटिस मीडिया में आई रिपोर्ट्स से जानकारी मिलने के बाद जारी किया गया है, जिनसे पता चला था, कि एक एचआईवी पॉजिटिव लड़के को एक प्राइवेट स्कूल से निकाल दिया गया। यह मामला दक्षिण 24 परगनास जिले का है।

रिपोर्ट के मुताबिक, मानवाधिकार आयोग ने मीडिया रिपोर्ट्स का स्वतः संज्ञान लिया है। दक्षिण 24 परगनास के बिशनूपुर इलाके में स्थित एक प्राइवेट स्कूल में एक एचआईबी संक्रमित लड़के छात्र पर प्रतिबंध लगा दिया। इसके अलावा उसकी नानी जो कि स्कूल में ही एक टीचर हैं, उन्हें भी 'प्योरिटी टेस्ट' के लिए मजबूर किया गया। इसके बाद से वह लगातार कई बार मौखिक रूप से अपमानित हो चुकी हैं।

आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव को नोटिस जारी करते हुए कहा, ''प्रेस रिपोर्ट के विषय के मुताबिक, अगर यह सही है तो पीड़ित के मानवाधिकारों का उल्लंघन हुआ है। इनमें से सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण सात वर्षीय का शिक्षा का अधिकार है।''  बता दें, 20 नवंबर को आई एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 5 महीने पहले एचआईबी पॉजिटिव पाए गए 7 वर्षीय स्कूली छात्र से स्कूल छोड़ने के लिए कहा गया। उसके स्वास्थ्य संबंधी गोपनीय रिपोर्ट लीक होने के बाद कई बच्चों के माता पिता ने उसे बाहर निकालने की मांग की थी।