महाशिवरात्रि मनाने पाक गए भारतीय श्रद्धालुओं को धमकी, लौटे वापस

नई दिल्ली ( 2 मार्च ): भारतीय दल महाशिवरात्रि मनाने के लिए भारत से पाकिस्तान के कटास राज मंदिर गया था। यह भारतीय दल विरोध की वजह से अपने तय समय से दो दिन पहले ही भारत वापस लौट आया। 237 लोगों का भारतीय दल पाक गया था जिसे 28 फरवरी को देश लौटना था। लेकिन विरोध की वजह से घबराए पाक फौजियों और पुलिस के अफसरों ने उन्हें अपने घेरे में रखा। उन्हें एक गुरुद्वारे में टिकाया गया, वहां भी उनका विरोध हुआ।

केंद्रीय सनातन धर्मसभा ने पाकिस्तान स्थित हिंदुओं के प्राचीन तीर्थस्थल श्रीकटास राज के दर्शन के लिए वीजा आवेदन किया था। पाकिस्तान से लौटे मेरठ के राम कुमार अग्रवाल ने बताया कि यात्रा 22 फरवरी से शुरू हुई थी। एक दिन लाहौर में रुकने के बाद सभी को चकवाल जिले स्थित श्रीकटास राज मंदिर ले जाया गया। दर्शन करवाए गए। इस बीच, स्थानीय लोगों ने भारतीय दल का विरोध शुरू कर दिया। लोगों ने लाहौर में धरना-प्रदर्शन कर दल को वापस भारत भेजने की मांग शुरू कर दी।

कुछ आतंकी संगठनों ने भी दल पर हमले की धमकी दी। धमकी से घबराए पाक अफसरों ने 25 फरवरी को लाहौर के एक गुरुद्वारे में श्रद्धालुओं को ठहराया। दिन भर किसी को भी बाहर निकलने नहीं दिया गया। पाबंदी से परेशान होकर दल ने वापस लौटने की घोषणा कर दी।