पाकिस्तान में हिंदु मंदिर निशाने पर, बढ़ाई गई सुरक्षा

नई दिल्ली ( 21 अक्टूबर ) : पाकिस्तान में हिंदुओं और अन्य अल्पसख्यकों के धामिर्क स्थलों पर खतरे को देखते हुए एक नई योजना शुरू की गई है।  पाकिस्तान के सिंध में हिंदुओं और अन्य अल्पसंख्यकों के धार्मिक स्थलों पर हमलो की बढ़ती घटनाओँ को रोकने के लिए करीब 40 करोड़ रुपये की सुरक्षा योजना शुरू की गई है। पाकिस्तानी अखबार के मुताबिक इस महत्वाकांक्षी योजना माध्यम से पूजा स्थलो में निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरों पर काफी निवेश किया गया है।

सिंध मुख्यमंत्री के सहायक खाटूमल जीवन ने कहा कि इस सुरक्षा योजना के माध्यम से धार्मिक स्थलों की सुरक्षा का स्तर का अच्छा हो जाएगा। उन्होंने आगे बताया कि प्रत्येक पूजा स्थल की सुरक्षा के लिए आधुनिक सुरक्षा प्रणाली का इस्तेमाल किया जा रहा है।

पाकिस्तान के एक अखबार के मुताबिक यह योजना लरकाना, हैदराबाद और अन्य स्थानों में हिंदू मंदिरों पर हुए हमले के बाद पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो के एक निर्देश के पर बनाई गई है।

इसके तहत सिंध पुलिस ने हिंदुओं, सिखों और ईसाइयों सहित धार्मिक अल्पसंख्यकों से संबंधित पूजा के 1,253 स्थानों कि चिंहित किया है। इनमें 703 हिंदू मंदिर, 523 के अलावा, 21 अहमदी समुदाय के धार्मिक स्थल और छह गुरुद्वारों शामिल हैं। इन स्थानों की रक्षा के लिए 2,310 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।