डॉनल्ड ट्रंप की प्रार्थना सभा में पहली बार शामिल होगा हिंदू पुजारी

नई दिल्ली ( 20 जनवरी ): अमेरिका में डॉनल्ड ट्रंप की राष्ट्रीय प्रार्थना सभा में प्रार्थना करने वाले कई धार्मिक नेताओं के बीच एक हिंदू पुजारी को भी शामिल किया जाएगा। ट्रंप के अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लिए जाने के एक दिन बाद शनिवार को प्रार्थना सभा का आयोजन होगा।

प्रेजिडेंशल इनॉगरेशन कमिटी ने बताया कि मैरिलैंड के लनहम में श्री शिव विष्णु नाम के मशहूर मंदिर से नारायणचार्य एल दिगालाकोटा शनिवार को वॉशिंगटन नैशनल कैथेड्रल में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय प्रार्थना सभा में प्रार्थना करेंगे। शायद ऐसा पहली बार है जब राष्ट्रीय प्रार्थना सभा में किसी हिंदू पुजारी को बुलाया गया है।

कमिटी ने बताया कि राष्ट्रपति के रूप में सभी अमेरिकियों के लिए ट्रंप की प्रतिबद्धता को सुनिश्चित करने के मकसद से इस प्रार्थना सभा का आयोजन किया जा रहा है। बता दें कि अमेरिका में जॉर्ज वॉशिंगटन के समय पहली बार राष्ट्रीय प्रार्थना सभा का आयोजन हुआ था

वॉशिंगटन नेशनल कैथेड्रल में साल 1933 से अब तक इस तरह की सात से ज्यादा प्रार्थना सभाओं का आयोजन हो चुका है। इस प्रार्थना सभा में राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति शामिल होंगे और यहां स्तुति गीत और प्रार्थनाएं होंगी।