बढ़ रही है हिंदुओं की आबादी लेकिन घट रहा है प्रतिशत

नई दिल्ली (14 मार्च): देश में हिंदुओं की आबादी बढ़ रही है लेकिन कुछ जनसंख्या में इनका प्रतिशत घट रहा है। लोकसभा में एक सवाल का लिखित जवाब देते हुए गृहमंत्रालय ने कहा कि साल 1971 से लेकर 2011 तक चार दशकों में देश में हिंदुओं की आबादी दोगुनी से भी अधिक होकर 96 करोड़ 62 लाख से ज्यादा हो गई है हालांकि कुल जनसंख्या में उनकी भागीदारी तकरीबन तीन फीसदी कम हुई है।

सरकार की ओर से बताया गया कि देश में हिंदुओं की आबादी 1971 में 45 करोड़ 32 लाख 92 हजार 086 थी जो 2011 में बढ़कर 96 करोड़ 62 लाख 57 हजार 353 हो गई है। इस तरह से देखा जाए तो हिंदुओं की आबादी 4 दशकों में दोगुनी से भी अधिक हुई है, लेकिन इस दौरान देश की कुल आबादी में उसकी हिस्सेदारी घटी है। सरकार ने अपने जवाब में पिछली पांच जनगणनाओं से मिले डाटा का हवाला भी दिया है।

जनगणना-1971: कुल आबादी 54.79 करोड़, हिंदू 45.33 करोड़ (82.7%)

जनगणना-1981: कुल आबादी 66.53 करोड़ , हिंदू 54.98 करोड़ (82.6%)

जनगणना-1991: कुल आबादी 83.86 करोड़, हिंदू 68.76 करोड़ ( 82.0%)

जनगणना-2001: कुल आबादी 102.86 करोड़, हिंदू 82.76 करोड़ (80.5%)

जनगणना-2011: कुल आबादी 121.08 करोड़, हिंदू 96.62 करोड़ (79.8%)

गौरतलब है कि 1971 की जनगणना में सिक्किम तो 1981 में असम की आबादी कुल आबादी में शामिल नहीं थी। इसी तरह 1991 में मणिपुर के कुछ इलाकों की आबादी जनगणना न हो पाने के चलते कुल आबादी में शामिल नहीं थी।