अमेरिका में क्लिंटन ने रचा इतिहास, बनीं राष्ट्रपति पद की 'पहली' महिला उम्मीदवार

नई दिल्ली (27 जुलाई): लंबे इंतजार के बाद आखिरकार हिलरी क्लिंटन अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बन गईं। अमेरिका के इतिहास में यह पहली बार है जब किसी महिला को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना गया है। 

- अब हिलरी का मुकाबला नवंबर में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप से होगा। - रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले अपनी महीनों पुरानी कड़वाहट को खत्म करते हुए बर्नी सैंडर्स ने अपनी प्रतिद्वंदी हिलरी का समर्थन किया था।  - सैंडर्स ने फिलाडेल्फिया में शुरू हुए डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन में कहा था कि हिलरी को अमेरिका का अगला राष्ट्रपति जरूर बनना चाहिए। क्योंकि उनके और रिपब्लिकन उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप के बीच मुकाबला 'करीबी' नहीं है।

-  बर्नी सैंडर्स (71 साल) ने कहा, 'हिलरी क्लिंटन के विचारों और नेतृत्व के आधार पर उन्हें अमेरिका का अगला राष्ट्रपति बनना चाहिए। अगर ट्रंप और हिलरी को विकल्प माना जाए तो इनमें जरा भी करीबी मुकाबला नहीं है।'