अब ट्रेन में भी मिलेगा हाईस्पीड इंटरनेट

नई दिल्ली (18 जून): अगर आप अक्सर ट्रेन में सफर करते हैं तो ये खबर आपके लिए किसी खुशखबरी से कम नहीं है, क्योंकि अब यात्री जल्द ही सफर के दौरान हाईस्पीड इंटरनेट, ऑन डिमांड वीडियो या दूसरे ऑनलाइन इंटरटेनमेंट का लुत्फ ले सकेंगे।


ट्रेन की मॉनिटरिंग और पैसेंजर्स के आरामदायक सफर के लिए रेलवे हाईस्पीड मोबाइल कम्युनिकेशन कॉरिडोर तैयार कर रहा है। डिपार्टमेंट को उम्मीद है कि इससे ट्रेन ऑपरेशन में भी सुधार होगा। रेल मंत्रालय के मुताबिक, मेन रूट्स पर 2541 किलोमीटर में नए कम्युनिकेशन सिस्टम ने काम शुरू कर दिया है। जबकि 3408 किलोमीटर रूट पर इसका काम तेजी से चल रहा है।


फिलहाल क्या इंतजाम है?

- ट्रेन ऑपरेशन के लिए रेलवे फिलहाल वायरलेस सिस्टम का इस्तेमाल करता है। GSM-R नेटवर्क के जरिए ड्राइवर और कंट्रोलर किसी ट्रेन का रूट तय करते हैं।

- रेलवे के सिग्नल और टेलिकॉम विंग के अफसर ने बताया कि अब GSM-R (ग्लोबल सिस्टम फॉर मोबाइल कम्युनिकेशन-रेलवेज) की जगह LTE-R (लॉन्ग टर्म इवोल्यूशन-रेलवेज) सिस्टम लगाया जा रहा है।


स्टेशनों पर मिलता है इंटरनेट

-पिछले साल देश के बड़े स्टेशनों पर फ्री इंटरनेट फैसिलिटी की शुरूआत हुई थी। भारत दौरे पर आए गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने इसका एलान किया था।

- हाल ही में शुरू हुई तेजस एक्सप्रेस समेत देश की कुछ ट्रेनों में पैसेंजर्स के लिए वाईफाई फैसिलिटी है।