'अगर मोदी के रहते कश्मीर मुद्दा नहीं सुलझा, तो कभी नही सुलझेगा'

नई दिल्ली (29 अगस्त): जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर विवाद के लिए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अपनाए रुख को एकमात्र रास्ता बताया है। उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तहत इस विवाद का हल नहीं हुआ तो, यह कभी नहीं सुलझेगा। 

- रिपोर्ट के मुताबिक, महबूबा ने रविवार शाम एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘वाजपेयी सिद्धांत के अलावा कोई और विकल्प नहीं है। - उन्होंने कहा, अगर हम इस संकट और हिंसा के चक्र से कश्मीर को निकालना चाहते हैं तो हमें इसका पालन करना होगा और उन्हें (पाकिस्तान को) भी इसका पालन करना होगा। - महबूबा ने दावा किया कि यह एकमात्र मौका है जब लोगों को विवाद का हल करना है और यदि मोदी के तहत इसका हल नहीं हुआ तो कभी नहीं हो पाएगा।  - उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कल भी कहा था कि यदि मोदी के शासनकाल के दौरान हमारा देश और पाकिस्तान एवं जम्मू कश्मीर के लोगों ने इस मुद्दे का हल नहीं किया तो इस मुद्दे का कभी हल नहीं होगा। आपको रोज-रोज ऐसा शक्तिशाली नेता नहीं मिलेगा जो फैसला ले सकता हो।’’ - उन्होंने कहा कि उनकी सरकार को अभी बमुश्किल तीन महीने हुए थे जब बुरहान वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में हिंसा का मौजूदा चक्र शुरू हो गया।  - महबूबा ने कहा, ‘‘हमारी सरकार की क्या गलती थी जब इसके आने के महज तीन महीने के अंदर ही एक मुठभेड़ हो गई और ऐसी स्थिति पैदा हो गई तथा इतना खूनखराबा और हिंसा शुरू हो गई।’’ - उन्होंने कहा कि किसी न किसी बहाने उनकी सरकार के खिलाफ अफवाहें फैली लेकिन यह साफ कर दिया गया कि राज्य का भारत के दिल में एक खास जगह है।