...तो इस वजह से इतना सस्ता बिक रहा है freedom251

नई दिल्ली(20 फरवरी): देश में इन दिनों दुनिया के सबसे सस्ते स्मार्टफोन की चर्चा हो रही है। महज 251 में रुपये में बिकने वाला मोबाईल फ्रीडम 251 सुर्खियों में है। अब ये फोन इतने कम दाम में क्यों बिक रहा है इसपर विवाद हो गया। सवाल उठ रहे हैं आखिर जो फोन 3000 से 4000 में मिलता है वो कैसे महज 251 में बिक रहा है। 

बता दें कि इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ने स्मार्टफोन की कीमत पर कई तरह के सवाल उठाए। आईसीए ने कहा कि जब प्रोडक्ट कॉस्ट में ड्यूटी, टैक्स, डिस्ट्रीब्यूशन और रिटेल मार्जिन जुड़ने के बाद इस फोन की कीमत 4,100 रुपये हो जाती है, तो भला कैसे फोन 251 रुपये में बिक सकता है?

ई-कॉमर्स या किसी तरह की सब्सिडाइज्ड सेल पर अगर इसे बेचा जाता है, तो इसकी कीमत 3,500-3,800 रुपये पड़ेगी। ऐसे में महज 251 रुपये स्मार्टफोन उपलब्ध कराना वाकई कई शंकाएं और सवाल खड़े करता है।

आईए जानते हैं आखिर किन वजहों से इस स्मार्टफोन की कीमत इतनी कम है

रिंगिंग बेल्स के प्रेसिडेंट अशोक चड्ढा ने माना कि मोबाइल की मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट ढाई हजार रुपए के आसपास है। लेकिन साथ ही उन्होंने बताया कि अपने यूनिक बिजनेस मॉडल की वजह से कंपनी इस फोन की 251 रुपए की कीमत पर बिक्री कर पाएगी। फ्रीडम 251 को जो भी फायदा मिला है वह मेक इन इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया योजना के अंतर्गत ही है।

अर्थशास्त्र यह नहीं बताता कि आखिर कैसे 2 हजार की मैन्युफैक्चरिंग कीमत रखने वाले फोन को 251 रुपए में बेचा जा सकता है। चड्ढा ने कहा कि शुल्क में छूट से 400 रुपए पहले ही घट जाते हैं। ज्यादातर, भारत में असेंबल किए जाने वाले इन मोबाइल को 13.8 फीसदी के शुल्क में छूट मिल जाएगी।

कंपनी ने इस फोन को अपनी खुद को ऑनलाइन ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर बेचने का फैसला किया है, इस वजह से डिस्ट्रिब्यूटर और मिडिलमैन की लागत कम हो जाती है। इस वजह से मोबाइल और सस्ता हो जाता है।

प्रेसिडेंट चड्ढा ने बताया कि इस कदम से मोबाइल की कीमत 480 रुपए कम हो जाती है। इसके बाद भी फोन की कीमत 1000 रुपए बैठती है। चड्ढा विश्वास दिलाते हैं कि कंपनी के पास अभी भी ट्रंप कार्ड हैं जिससे इसकी भरपाई हो जाएगी। चड्ढा ने कहा कि ऐसे कई प्रॉडक्ट हैं जिनको सेल करने वाले कंपनी के ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म http://www.freedom251.com/ का इस्तेमाल कर उसे बेचना चाहते हैं, इस कदम से हम बाकी के 700-800 रुपए की भरपाई कर लेंगे।