देवर के साथ जेठानी को रंगे हाथ पकड़कर देवरानी...

 

मुरैना: मध्यप्रदेश के मुरैना से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसने सभी को हैरान करके रख दिया है। यहां पर बीमा एजेंट व टीचर हेमा बंसल की हत्या का राज करीब-करीब खुल गया है, लेकिन पुलिस इस मामले में वैज्ञानिक साक्ष्य मजबूत नहीं होने से अभी इसका खुलासा नहीं कर रही है।

(मारी गई हेमा बंसल की फाइल फोटो)

हेमा की हत्या करना उसकी देवरानी मीरा ने पुलिस हिरासत में दो दिन की लंबी पूछताछ में कई बार स्वीकार किया है। लेकिन विसंगति ये है कि मीरा कुछ देर बाद ही कहने लगती है कि मैं तो झूठ बोल रही थी, मैंने नहीं मारा। इस स्थिति में पुलिस मीरा को आरोपी बनाने का ठोस निर्णय नहीं ले पा रही है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, देवरानी मीरा ने जेठानी हेमा को अपने पति पवन के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। जिसके बाद मीरा ने दो दिन पहले ही हत्या की योजना बना ली थी। इसीलिए उसने नकाबपोश की झूठी कहानी गढ़ी थी। फिर खलबत्ता (खल्लड़) की लोहे की मजबूत मूसली से मीरा के सिर पर प्रहार करके उसकी हत्या की और मूसली को धोकर रख दिया था। यह मूसली पुलिस ने बरामद कर ली है, जिसकी फोरेंसिक जांच कराई जाएगी। इसके लिए मूसली का केमिकल टेस्ट भी कराया जाएगा।