भूकंप से हिले 11 राज्य: 8 की मौत, 100 से ज्यादा घायल

नई दिल्ली  (4 जनवरी) : समूचे उत्तर भारत में 5 घंटे के अंदर दूसरी बार भूकंप के झटके महसूस किए गए। पहला झटका सुबह 4.35 बजे के आसपास लगा था लेकिन महज 5.30 घंटे बाद दोबारा झटके महसूस किए गए। बताया जा रहा है कि रेक्टर स्केल में पहले भूंकप की तीव्रता 6.7 मापी गई है वहीं दूसरे झटके की तीव्रता 3.8 मापी गई है।

पहले झटके का केंद्र जमीन से 17 किलोमीटर नीचे था। भूकंप का केंद्र मणिपुर के तामेंगलॉन्ग जिले में था। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, भूकंप के चलते 8 लोगों की मौत हो गई है जबकि 100 से अधिक लोग घायल हो गए हैं।

मणिपुर के इंफाल में सबसे ज्यादा तबाही हुई है। मणिपुर, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, झारखंड, बिहार समेत 11 राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप सुबह करीब चार बजे आया। जैसे ही झटके आए लोग डरकर अपने घर से बाहर निकल गए। इंफाल में तो कई इमारते ढह गईं।

मणिपुर के सीएम ओकराम इबोबी सिंह से पीएम मोदी से फोन पर बातची की। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हालात पर केंद्र की नजर है। मणिपुर में 40-45 लोग भूकंप की वजह से घायल हुए हैं। एनडीआरएफ की टीम रवाना कर दी गई हैं।

भारत में असम, बंगाल, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, झारखंड, उड़ीसा सहित कई राज्यों में झटके महसूस किए गए। बताया जा रहा है कि  कुछ इमारतों की सीढ़ियां, दीवारें और छतें ढह गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी भूकंप के बाद ट्वीट करके बताया कि उन्होंने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात की है। राजनाथ सिंह इस समय असम में हैं।