भीषण गर्मी में बिजली कटौती से बेहाल सीएम योगी का प्रदेश!

नई दिल्ली ( 16 मई ): उत्तर प्रदेश में गर्मी की शुरुआत होते ही बिजली कटौती से लोग बेहाल है। शायद ही ऐसा कोई जिला हो जहां प्रतिदिन बिजली कटौती न हो रही हो। अगर बिजली आती भी है तो कटौती इतनी बार होती है की पता ही नहीं चल पाता कि बिजली कब आयी और कब चली गई। ये हाल तब है जब अभी मांग ज्यादा नहीं। सरकार के ऊर्जा मंत्री का दावा है की हमने जो रोस्टर तय किया है उसे पूरा किया जायेगा। लेकिन असलियत और दावों में जमीन आसमान का फर्क दिखने लगा है।

 

दरअसल यूपी में सरकार बदल चुकी है और अब योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री हैं। योगी सरकार ने अपने चुनावी वादे पर अमल शुरू किया और बिजली व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त करने की दिशा में काम शुरू हुआ। योगी सरकार ने वादा किया की अब निजाम बदला है लिहाजा ग्रामीण इलाको में 18 घंटे, तहसीलों में 20 घंटे और जिलों में 24 घंटे बिजली दी जाएगी। लेकिन हालत कुछ ऐसे बिगड़ चुके हैं की गर्मी की शुरुआत में ही बिजली की जबरदस्त कटौती हो रही है और लोग बेहाल हैं।


इस बारे में राज्य के बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा से न्यूज 24 की टीम ने सवाल किया तो उनका कहना था की ये जर्जर हालत पिछली सरकार की देन है। उन्होंने विभाग को खोखला कर दिया है, लेकिन योगी सरकार अपने वादे कृत संकल्प है और इस बार गर्मियों में लोगों को कोई परेशानी नहीं होगी। हम गांव, तहसील और जिलों सब जगह रोस्टर के अनुरूप ही बिजली देंगे।