'हार्ट सर्जरी के बाद बदल गयी गेल की जिंदगी'

नई दिल्ली (10 सितंबर):   जीवन का लुत्फ उठाने के लिए पहचाने जाने वाले वेस्टइंडीज के आक्रामक सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल ने खुलासा किया कि ऑस्ट्रेलिया में 2005 में दिल के ऑपरेशन के बाद उन्होंने जिंदगी का लुत्फ उठाना शुरू किया। वर्ष 2005 में वेस्टइंडीज के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान दिल में छेद के उपचार के लिए गेल का ऑपरेशन हुआ था और सभी लोगों को यह बात नहीं पता।

उनके माता पिता को भी सर्जरी होने के बाद इस बारे में जानकारी दी गई थी। सर्जरी के बाद गेल एडिलेड में तीसरे और अंतिम टेस्ट में नहीं खेल पाए थे और उन्होंने कहा कि इस ऑपरेशन के बाद ही उन्हें जीवन की अहमियत पता चली। गेल ने यहां अपनी आत्मकथा ‘सिक्स मशीन’ के लांच के दौरान कहा कि किसी को नहीं पता कि ऑस्ट्रेलिया में उपचार के दौरान मुझे दिल में छेद के बारे में पता चला, मेरे माता पिता को भी नहीं। मुझे सर्जरी कराने के लिए बाध्य होना पड़ा और मैंने ऑपरेशन के बाद ही अपने माता पिता को सूचना दी।

अपनी आत्मकथा के बारे में गेल ने कहा कि यह उनके चरित्र का बिलकुल अलग पहलू पेश करेगी। इस मौके पर मौजूद भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने गेल को क्रिकेट का सच्चा दूत बताया। उन्होंने कहा कि क्रिस गेल मैदान के अंदर और बाहर मनोरंजन करने वाला व्यक्ति है, मजे करने वाला इंसान। वह क्रिकेट का सच्चा दूत है।