लॉकअप तक नहीं पहुंच सके कन्हैया, रास्ते में खड़े हैं 100 वकील

नई दिल्ली (17 फरवरी): कोर्ट के आदेश के बाद कन्हैया को लॉकअप तक ले जाया जा रहा था तभी 100 वकीलों ने रास्ते को ब्लॉक कर दिया है। इससे पहले देशद्रोह के मामले में कन्हैया कुमार को पटियाला हाउस कोर्ट ने 14 दिन की हिरासत में भेज दिया है। पेशी के दौरान कुछ लोगों ने न्यूज 24 चैनल की ओबी वैन पर पत्थरबाजी की। हालांकि यह साफ नहीं हो पाया है कि ये पत्थर किसने फेंका है। पटियाला हाउस कोर्ट की घटनाओं का पता लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के छह वकीलों के पैनल ने अपनी रिपोर्ट में आज पेशी के दौरान कन्हैया कुमार से हाथापाई होने की पुष्टि की है।  

ताजा अपडेट्स... > छह वरिष्ठ वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट को सौंपी रिपोर्ट। > SC ने दिल्ली पुलिस के वकील को कहा कि कमिश्नर से पूछों वो आरोपी को सुरक्षा दे सकते हैं या हम आदेश दें। > SC ने यह भी कहा कि वो दिल्ली पुलिस कमिश्नर से अभी बात करें। > कोर्ट में हुआ कन्हैया का मेडिकल।

कन्हैया ने कहा... > कन्हैया ने जेएनयू के छात्रों से की अपील। > अपील में कहा कि छात्र संविधान पर यकीन रखे। > मुझे दोषी पाया गया तो मैं अपना पक्ष रखूंगा। > कन्हैया ने बताया कि परिसर में भीड़ ने मेरे साथ हाथापाई की। > कन्हैया ने कोर्ट में कहा कि मेरे ऊपर कोर्ट के बाहर किया गया हमला।

वकीलों ने कहा... > कन्हैया की जान को खतरा है। > हमें पाकिस्तान का दलाल कहा गया। > हमारे ऊपर बोतल और पत्थर फेंके गए। > दिल्ली पुलिस सुरक्षा देने में नाकाम रही। > हमारे खिलाफ नारेबाजी की गई। > सुरक्षा के बावजूद गैरजरूरी लोग वहां खड़े थे।

क्या बोले बस्सी > कन्हैया को पर्याप्त सुरक्षा मिली थी। > हमले के दौरान पुलिस वालों को भी चोट लगी। > उस समय भीड़ बेकाबू हो गई थी। > भीड़ के बीच से कन्हैया को ले जाने के समय धक्का-मुक्की हुई। > बीएस बस्सी ने कहा कन्हैया के साथ मारपीट नहीं हुई। भारी संख्या में लोग वहां मौजूद थे। > कन्हैया की जमानत का विरोध नहीं करेंगे दिल्ली के कमिश्नर बीएस बस्सी।

14 दिन तक तिहाड़ में रहेगा कन्हैया > तिहाड़ में 14 की हिरासत में कन्हैया को रखा जाएगा। > कोर्ट ने डीसीपी को कन्हैया के लिए पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम करने को कहा। > कन्हैया को दो मार्च तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया। > वकीलों की रिपोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट आदेश देगा।

पेशी के दौरान क्या हुआ > कपिल सिब्बल के खिलाफ हुई नारेबाजी। > पांच वकीलों की टीम में कपिल सिब्बल, एडीएन राव, दुष्यंत देव और हिरेन रावत शामिल हैं। > वकीलों की 5 सदस्यीय टीम कोर्ट पहुंची। > सुप्रीम कोर्ट ने टीम को जायजा लेने को कहा। > कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को मौखिक आदेश दिया, कोर्ट में जितने भी लोग हैं उनको बाहर निकाले। > सुप्रीम कोर्ट ने कानून व्यवस्था पर चिंता जाहिर की। > सुप्रीम कोर्ट ने कोर्ट परिसर खाली करने को कहा। > सुप्रीम कोर्ट ने कन्हैया मामले में सुनवाई रोकने को कहा। > BEA का प्रतिनिधि मंडल गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलेगा। > SC ने कहा कि पटियाला हाउस कोर्ट मामले पर रिपोर्ट दें वकील। > SC ने कहा कि पुलिस को वकीलों को सुरक्षा दी जाए। > पटियाला हाउस कोर्ट में पथराव।

इससे पहले वकीलों ने तिरंगे के साथ प्रदर्शन किया। सोमवार को पेशी के दौरान वकीलों ने जेएनयू छात्रों के साथ मारपीट की गई थी। जिसके बाद आज सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। वहीं आज फिर जेएनयू छात्रों ने मारपीट का करने का आरोप लगाया है। बता दें कि सोमवार को पेशी के दौरान वकीलों ने जेएनयू छात्रों के साथ मारपीट की गई थी। जिसके बाद आज सुरक्षा कड़ी कर दी गई है

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने कहा है कि कन्हैया के खिलाफ उनके पास पूरे सबूत हैं। बस्सी ने कहा कि जेएनयू में देशद्रोही नारेबाजी के कार्यक्रम में बाहरी लोग भी थे। जिनकी पहचान कर ली गई है। बस्सी के इस बयान से पहले खबर आई थी कि गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में कहा गया है कि कन्हैया ने उस दिन नारेबाजी नहीं की थी।

वकील के दो गुट भिड़े पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर प्रदर्शन के दौरान वकीलों के दो गुट आपस में भिड़ गए। एक गुट कन्हैया के पक्ष में है दो दूसरा उसके खिलाफ।बता दें कि एक वकील विक्रम सिंह चौहान इन वकीलों का नेतृत्व कर रहे हैं।

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=40JCtMBNdI0[/embed]