इम्यूनिटी बढ़ाने और हड्डियों को मजबूत रखने के लिए सर्दियों में खाएं ये 5 फूड

सर्दियों में इम्यूनिटी बूस्ट करने और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए ये 5 सुपरफूड काफी कारगर हैं। जिनके इस्तेमाल से आप स्वस्थ रहकर तमाम बीमारियों को मात दे सकते हैं।

इम्यूनिटी बढ़ाने और हड्डियों को मजबूत रखने के लिए सर्दियों में खाएं ये 5 फूड
x
Instagram

मुंबई। गर्मियों की तरह सर्दियों में भी शरीर की उचित देखभाल जरूरी है। सर्दियों में उच्च पोषण वाले भोजन का सेवन करना आवश्यक होता है क्योंकि ये आपको नेचुरल तरीके से स्वस्थ रखने में कारगर है। यूं तो, सर्दियों के मौसम में जंक फूड और कॉफी, चाय के सेवन की इच्छा काफी ज्यादा होती है। लेकिन ये आपके शरीर को कई नुकसान पहुंचाते हैं। इसी बीच मौसमी फल, सब्जियां, दालें, नट और बीज जैसे सुपर फूड का इस्तेमाल कर कोविड-19 के नए प्रकार ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों के बीच इम्यूनिटी शक्ति को मजबूत रखा जा सकता है। 


सर्दियों में इम्यूनिटी को बढ़ाने और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए मूंगफली, घी, बाजरा, तिल और जड़ वाली सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थ को अपने भोजन में शामिल करना आवश्यक है। आइए बताते हैं कि कैसे 5 सुपर फूड को आप अपने आहार में शामिल कर ज्यादा से ज्यादा लाभ उठा सकते हैं-



और पढ़िए –Beetroot Daliya Recipe: ब्रेकफास्ट में बनाकर खाएं डिलीशियस चुकंदर का हलवा, वजन घटाने में मिलेगी मदद



बाजरा


सर्दी से बचाव और अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए आप बाजरे के साथ कई व्यंजन बना सकते हैं। बाजरा, विटामिन बी से भरपूर होता है और इसके सेवन से मांसपेशियों के विकास और बालों के पुनर्जनन में सहायता मिलती है। प्रोटीन, फोलेट और आयरन से भरपूर, बाजरा वजन घटाने और डायबिटीज को कंट्रोल में रखने में मदद करता है।


गोंद


बबूल के पौधे से प्राप्त भूरे रंग का क्रिस्टल गोंद अपने औषधीय लाभों के लिए जाना जाता है। गोंद, सहनशक्ति और स्वास्थ को बढ़ावा देने में कारगर है। साथ ही विटामिन डी के स्तर को बहाल करने और जोड़ों के दर्द से आराम दिलाने में प्रभावी है। गोंद के लड्डू पारंपरिक रूप से गर्भावस्था के दौरान और बच्चे के जन्म के बाद खिलाए जाते हैं, क्योंकि वे कैल्शियम और प्रोटीन से भरपूर होते हैं। ये हड्डियों, सेक्स ड्राइव और पाचन सहायता के लिए अच्छा है।


हरी पत्तेदार सब्जियां

सर्दियों में हरी पत्तेदार सब्जियां काफी मात्रा में उत्पन्न होती हैं। कई लोग पालक पनीर, मेथी की सब्जी और सरसो के साग का आनंद घी लगी रोटियों के साथ उठाते हैं। ये स्वाद में तो काफी लजीज होते ही हैं। साथ ही इसके कई अविश्वसनीय फायदे भी हैं। इनमें एंटीऑक्सिडेंट, फाइबर और विटामिन प्रचूर मात्रा में उपलब्ध होते हैं। जो हाथ-पैरों की जलन को कम करने में सहायक हैं। 


शकरकंद


मौसमी सब्जियों और फलों का सेवन करने से आपको बेहतर रोग प्रतिरोधक क्षमता मिल सकती है। कंद हो, शकरकंद, शलजम, गाजर या चुकंदर, ये आपके शरीर को गर्म रख सकते हैं। साथ ही ये सुपरफूड एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ए और सी के साथ लौह और पोटेशियम जैसे खनिजों में उच्च हैं। इसके लाभ की बात करें तो, ये प्री-बायोटिक के रूप में कार्य करते हैं और वजन घटाने में सहायता करते हैं। वे पाचन और पोषक तत्वों को आत्मसात करने में भी सुधार करते हैं।


तिल

हड्डियों और बालों की मजबूती के लिए उत्कृष्ट तिल आपके बवासीर और कब्ज के मुद्दों का भी इलाज कर सकता है। तिल पाचन में सुधार कर सकता है और श्वसन के साथ फेफड़ों की समस्याओं को रोक सकता है। इसके लाभ की बात करें तो, ये आवश्यक फैटी एसिड और विटमिन ई से भरपूर होता है, जो त्वचा और बालों के लिए काफी अच्छा है। 



और पढ़िए – हेल्थ से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Next Story