हरियाणा से गिरफ्तार चार खालिस्तानी आतंकवादियों से जुड़े दो और संदिग्ध पुलिस के हत्थे चढ़े

पुलिस ने कहा कि पंजाब के चार लोग पाकिस्तान स्थित बब्बर खालसा के आतंकवादी हरविंदर सिंह रिंडा से जुड़े थे। उन्होंने चारों के दो साथियों की पहचान फिरोजपुर छावनी के पास पीर की गांव के 23 वर्षीय आकाशदीप और फरीदकोट में रहने वाले जशनदीप के रूप में की। पुलिस ने कहा कि दोनों रिंडा के संपर्क में भी थे।

हरियाणा से गिरफ्तार चार खालिस्तानी आतंकवादियों से जुड़े दो और संदिग्ध पुलिस के हत्थे चढ़े
x

फिरोजपुर: पंजाब के फिरोजपुर और फरीदकोट से शुक्रवार को हरियाणा के करनाल में एक टोल प्लाजा पर गुरुवार को अपने वाहन में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी), हथियार और गोला-बारूद ले जाते पाए गए चार लोगों के साथ कथित संबंधों के आरोप में दो लोगों को और गिरफ्तार किया गया।


पुलिस ने कहा कि पंजाब के चार लोग पाकिस्तान स्थित बब्बर खालसा के आतंकवादी हरविंदर सिंह रिंडा से जुड़े थे। उन्होंने चारों के दो साथियों की पहचान फिरोजपुर छावनी के पास पीर की गांव के 23 वर्षीय आकाशदीप और फरीदकोट में रहने वाले जशनदीप के रूप में की। पुलिस ने कहा कि दोनों रिंडा के संपर्क में भी थे।


एक पुलिस अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, 'दोनों कल [गुरुवार] करनाल में गिरफ्तार किए गए चार व्यक्तियों के साथी हैं और पाकिस्तान से विस्फोटक और हथियार, गोला-बारूद प्राप्त कर रहे थे और फिर उन्हें विभिन्न स्लीपर सेल में वितरित कर रहे थे।'




और पढ़िए - कोर्ट परिसर में सरेआम महिला को दौड़ा दौड़ा कर पीटा, जमीन पर पड़े रोता बिलखता रहा महिला का बच्चा




वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (फिरोजपुर) चरणजीत सिंह सोहल ने कहा कि दोनों पर विस्फोटक पदार्थ अधिनियम, गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) और शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। कहा, 'हम दोनों से पूछताछ कर रहे हैं और बहुत जल्द अधिक जानकारी प्रदान की जाएगी।'


चार जो पकड़े गए, गुरप्रीत सिंह, अमनदीप सिंह, परमिंदर सिंह, जो फिरोजपुर के निवासी हैं, और भूपिंदर सिंह (लुधियाना के), विस्फोटक और हथियार पहुंचाने के लिए तेलंगाना जा रहे थे, जब उन्हें गुरुवार को इंटेलिजेंस ब्यूरो और पंजाब पुलिस इनपुट के आधार पर गिरफ्तार किया गया था।


दिल्ली पंजीकरण नंबर के वाहन से एक पिस्तौल, 30 कारतूस, 2.5 किलो वजन के तीन आईईडी और 1.3 लाख नकद बरामद किए गए। रिंडा ने कथित तौर पर फिरोजपुर में ड्रोन की मदद से उन्हें विस्फोटक मुहैया कराया था।


पानीपत के पुलिस अधीक्षक गंगा राम पुनिया ने कहा कि पूछताछ के दौरान चारों ने पाकिस्तान से विस्फोटक और हथियार हासिल करने की बात स्वीकार की। वे तेलंगाना के आदिलाबाद में एक गंतव्य के लिए खेप ले जा रहे थे। उन्होंने कहा कि यह तीसरी खेप थी जो वे रिंडा के कहने पर पहुंचा रहे थे।


चारों को 10 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम, यूएपीए और भारतीय दंड संहिता के तहत मामला दर्ज किया गया।





और पढ़िए - क्राइम से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें












Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story