PM मोदी आज 44वें शतरंज ओलंपियाड के लिए ‘ऐतिहासिक’ मशाल रिले की शुरुआत करेंगे, 187 देशों के करीब 3000 खिलाड़ी लेंगे हिस्सा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 44वें शतरंज ओलंपियाड के लिये पहली बार मशाल रिले का उद्घाटन करेंगे। भारत शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले रखने वाला पहला देश होगा। पांच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद भी रिले का हिस्सा होंगे।

PM मोदी आज 44वें शतरंज ओलंपियाड के लिए ‘ऐतिहासिक’ मशाल रिले की शुरुआत करेंगे, 187 देशों के करीब 3000 खिलाड़ी लेंगे हिस्सा
x

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 44वें शतरंज ओलंपियाड के लिये पहली बार मशाल रिले का उद्घाटन करेंगे। भारत शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले रखने वाला पहला देश होगा। पांच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद भी रिले का हिस्सा होंगे। यह रिले अब भविष्य में भी शतरंज ओलंपियाड में हमेशा आयोजित की जायेगी। विश्व शतरंज महासंघ इसकी घोषणा पहले ही कर चुका है। शतरंज ओलंपियाड 28 जुलाई से 10 अगस्त तक महाबलीपुरम में होगा। इसमें ओपन और महिला वर्ग में 187 देशों की रिकॉर्ड 343 टीमें भाग लेंगी।


FIDE के अध्यक्ष अर्कडी ड्वोरकोविच प्रधानमंत्री को मशाल सौंपेंगे। वे बदले में इसे ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद को सौंपेंगे। इस मशाल को चेन्नई के पास महाबलीपुरम में अंतिम समापन से पहले 40 दिनों की अवधि में 75 शहरों में ले जाया जाएगा। हर स्थान पर राज्य के शतरंज के ग्रैंडमास्टरों को मशाल मिलेगी।





और पढ़िए - तलाक की बात पर भावुक हो गईं ओलंपिक मेडलिस्ट लवलीना बोरगोहेन, वीडियो शेयर कर कही ये बात






राष्ट्रीय राजधानी से शुरू होकर ऐतिहासिक ओलंपियाड मशाल रिले 27 जुलाई को अपने गंतव्य-महाबलीपुरम तक पहुंचने से पहले देश भर के 75 शहरों की यात्रा करेगी। लेह, श्रीनगर, जयपुर, सूरत, मुंबई, भोपाल, पटना, कोलकाता, गंगटोक, हैदराबाद, बेंगलुरु, त्रिशूर, पोर्ट ब्लेयर और कन्याकुमारी 75 शहरों में से हैं। 


शतरंज ओलंपियाड में पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद ने कहा, हमने कभी भी इस पैमाने का आयोजन नहीं किया है। सरकार के समर्थन से यह चेन्नई में हो रहा है, जो भारत में शतरंज का केंद्र है। मुझे उम्मीद है कि 3 सप्ताह तक शतरंज सभी का ध्यान आकर्षित करेगा। 

 







और पढ़िए - खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें





Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story