डेविड हेडली ने कोर्ट को बताया-, 'मुझे भारत से 1971 से ही नफरत हो गई थी'

नई दिल्ली(25 मार्च): मुंबई हमलों का गुनहगार आतंकी डेविड कोलमैन हेडली ने बड़ा खुलासा किया है। शिकागो की जेल में बंद हेडली ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुंबई की कोर्ट में गवाही के दौरान कहा है कि पाकिस्तान के पीएम रहे यूसुफ रजा गिलानी एक बार उसके घर आए थे।

उसने यह भी बताया कि वह भारत से 11 साल की उम्र से नफरत करता है, जब वह स्कूल में पढ़ता था। वह लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी ही इसलिए बना था ताकि उसके स्कूल पर भारतीय प्लेन के बम गिराए जाने की घटना का बदला ले सके। 

हेडली के मुताबिक मैं भारत इसलिए नफरत करता था क्योंकि भारतीय फाइटर प्लेन ने 7 दिसंबर, 1971 को मेरे स्कूल पर बम गिराए थे। हेडली ने कहा कि बम से मेरा स्कूल गिर गया। वहां पर जो लोग काम करते थे, वो मारे गए। हेडली ने आगे बताया कि मैं बचपन से भारत और वहां के लोगों से नफरत करता था। मेरा एक ही मकसद था भारत को ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाना। हेडली के मुताबिक, 1971 में भारत-पाकिस्तान की जंग के वक्त वह 11 साल का था।