OMG: इस नाई के पास हैं 150 लक्जरी कारें, अब खरीदी 3.2 करोड़ की मायबक कार

नई दिल्ली ( 2 मार्च ): भारत में पिछले महीने जर्मन डेलीगेट्स आया था। उसने शाही नई मर्सिडिज मायबक एस 600 को किराए पर लिया था और यह कार भारत उपलब्ध नहीं है। इस कार की कीमत 3.2 करोड़ है। इस कार को कुछ समय पहले ही जर्मनी से इंपोर्ट कर लाया गया है। लेकिन सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि इस कार के मालिक कोई अमरी नहीं है बल्कि एक नाई है।

यह कार बेंगलुरु के मशहूर नाई रमेश बाबू की है जो 75 रुपए में लोगों के बाल काटते हैं और लक्जरी कारों के शौकीन हैं। पिछले महीने ही रमेश ने नई मर्सिडिज मायबक इंपोर्ट कराई थी। बेंगलुरु शहर में विजय माल्या और एक बिल्डर के अलावा केवल रमेश बाबू के पास यह कार है। वैसे, रमेश बाबू के पास इस कार के अलावा एक रोल्स रॉयस, 11 मर्सिडिज, 3 ऑडी और 2 जैगुआर शामिल हैं।

इतनी महंगी कारों के मालिक होने के बावजूद भी एक पेशेवर नाई के रूप में रमेश बाबू अपनी जड़ों को नहीं भूलना चाहते हैं। लेकिन दूसरे नाइयों से अलग रमेश बाबू अपनी शानदार सफेद रोल्स रॉयस घोस्ट को चलाते भी दिखाई देते हैं। हालांकि रमेश ने इन कारों के लिए भारी-भरकम बैंक लोन लिया है लेकिन साथ ही उन्होंने शहर में कई रईस लोगों को अपना ग्राहक बना लिया है जिसके कारण उनका काम अच्छा चल रहा है।

अपने पिता की मौत के समय रमेश बाबू की उम्र केवल नौ साल की थी। 10वीं पास करने के बाद उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी और अपना खानदानी नाई का काम करना शुरू कर दिया। साल 1994 में उन्होंने मारुति ओमनी वैन खरीदी और उसे किराए पर चलाना शुरू कर दिया। बस तभी से रमेश बाबू पर कारों का शौक हावी हो गया। अभी तक उनके पास 150 लक्जरी कारें हैं जिन्हें वह किराए पर चलाते हैं। 2011 में वह अंतरराष्ट्रीय रूप से सुर्खियों में आ गए जब उन्होंने रोल्स रॉयस खरीदी थी।