शपथ से पहले बोले कुमारस्वामी, कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार चलाना बड़ी चुनौती

नई दिल्ली ( 22 मई ): एच डी कुमारस्वामी बुद्धवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसस पहले मंगलावर को उन्होंने कि अगले पांच साल कांग्रेस-जेडी (एस) गठबंधन की सरकार चलाना उनके लिए बड़ी चुनौती रहेगी। कुमारस्वामी ने कहा, ‘मेरी जिंदगी की यह बड़ी चुनौती है। मैं यह अपेक्षा नहीं कर रहा कि मैं आसानी से मुख्यमंत्री के रूप में अपनी जिम्मेदारियों को पूरा कर पाऊंगा।'श्रृंगेरी पहुंचे कुमारस्वामी ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि देवी शारदाम्बे और जगदगुरू की कृपा से चीजें सुचारू रूप से चलेंगी। उन्होंने कहा, ‘केवल मुझे नहीं, लोगों को भी संदेह है, राज्य के लोगों को भी संदेह है कि यह सरकार सुचारू ढंग से काम कर पाएगी या नहीं, लेकिन मुझे भरोसा है कि शारदाम्बे और श्रृंगेरी जगदगुरू (शंकराचार्य) की कृपा से सबकुछ सुचारू रूप से होगा।’मंदिर का दौरा जारी रखते हुए कुमारस्वामी ने मंगलवार को आदि शंकराचार्य द्वारा स्थापित श्रृंगेरी शारदा मंदिर और दक्षिणामनया पीठम का भ्रमण किया। आपको बता दें कि कुमारस्वामी के साथ कांग्रेस के जी परमेश्वर उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। सरकार के बहुमत साबित कर देने के बाद ही मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।बता दें कि बुधवार को कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, अखिलेश यादव, मायावती, राहुल गांधी, सोनिया गांधी, चंद्रबाबू नायडू, के. चंद्रशेखर राव और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी हिस्सा लेंगे।